सहारनपुर के गांवों में होगी डेंगू टेस्टिंग:मंडलायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारों के साथ ही बैठक, बोले- प्रोटोकॉल का अनुपालन न करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

सहारनपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सहारनपुर के मंडलायुक्त कार्यालय में स्वास्थ्य संबंधी कार्यों की समीक्षा बैठक करते मंडलायुक्त लोकेश एम.। - Dainik Bhaskar
सहारनपुर के मंडलायुक्त कार्यालय में स्वास्थ्य संबंधी कार्यों की समीक्षा बैठक करते मंडलायुक्त लोकेश एम.।

सहारनपुर में मंगलवार को मंडलायुक्त कार्यालय में स्वास्थ्य संबंधी कार्यों की समीक्षा बैठक की। जिसमें मंडलायुक्त लोकेश एम. ने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को सख्त निर्देश दिए कि प्रोटोकॉल का अनुपालन न करने वाले प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। अस्पतालों में डॉक्टरों और जीवन रक्षक दवाओं का स्टॉक उपलब्ध होना चाहिए। साथ ही उन्होंने समस्त अधिशासी अधिकारियों को मच्छर लार्वा भक्षी गम्बूसिया मछली को समस्त तालाबों में डालने के निर्देश दिए।

डेंगू की प्रतिदिन की रिपोर्ट तलब
मंडलायुक्त ने सीएमओ को प्रतिदिन सुबह डेंगू के केसों की पूरी जानकारी देने को कहा है। उन्होंने किसी गांव में डेंगू का एक भी केस मिलने पर पूरे गांव तथा उसके आसपास के गांव में सफाई और एंटी लार्वा स्प्रे का अभियान चलाने और टेस्टिंग कराने के निर्देश दिए।

कैंप के माध्यम से बनाए गोल्डन कार्ड
मंडलायुक्त लोकेश एम. ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में अभियान चलाकर तथा जगह-जगह कैंपों के माध्यम से आयुष्मान पात्रों के गोल्डन कार्ड बनाए जाने चाहिए। प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ब्लड बैंक की स्थापना का क्या नियम है? इसकी रिपोर्ट स्वास्थ्य अधिकारियों से मांगी।

उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के साथ-साथ सामान्य टीकाकरण में भी तेजी लाई जाए। उन्होंने प्रपत्रों में गलत फीडिंग पर नाराजगी व्यक्त की और बैठक में सही आंकड़े प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

वापस न जाए मरीज
मंडलायुक्त ने सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि मंडल के सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को प्रभावी ढंग से क्रियाशील किया जाए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव-गांव जाकर डेंगू, मलेरिया तथा अन्य संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए लोगों को जागरूक करें।
उन्होंने कहा कि सीएमओ यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी मरीज सामुदायिक अथवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से बिना इलाज वापस न जाए। बैठक में अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डा.अनिता जोशी, मुख्य चिकित्साधिकारी सहारनपुर डा.संजीव मांगलिक, मुख्य चिकित्साधिकारी मुजफ्फरनगर डा.महावीर सिंह फौजदार, शामली डॉ.संजय अग्रवाल मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...