सेठ बलदेव के सपने को साकार नहीं कर पाई सरकार:63 साल बाद भी सहारनपुर जिला अस्पताल में चिकित्सकों की कमी, परेशानी से जूझ रहे मरीज

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेठ बलदेव दास बाजोरिया जिला अस्पताल। - Dainik Bhaskar
सेठ बलदेव दास बाजोरिया जिला अस्पताल।

सहारनपुर में सेठ बलदेव दास बाजोरिया ने 1954 में अपनी 80 बीघा भूमि पर जिला अस्पताल की नींव रखीं। शिलान्यास सीएम पंडित गोविंद पंत ने किया था। ठीक पांच सालों बाद 1959 में तत्कालीन सीएम डा.संपूर्णानंद ने अस्पताल का उद्घाटन किया। कम चिकित्सकों और स्टाफ से अस्पताल चलाया गया। लेकिन आज भी यह अस्पताल चिकित्सकों और स्टाफ की कमी से जूझ रहा है।

एक चिकित्सक को मरीजों को देखने में काफी समय लग रहा है। वार्डों में राउंड लेने के कारण चिकित्सक OPD में समय पर पहुंच नहीं पाते हैं। जिस कारण मरीजों और तीमारदारों को परेशानी झेलनी पड़ती है।

दानवीर परिवार का सपना नहीं संभाल पा रहा शासन-प्रशासन
दानवीर सेठ बलदेव दास बाजोरिया ने अपनी 80 बीघा संपत्ति को लोगों की भलाई के लिए जिला अस्पताल के लिए दान किया था। यहीं नहीं जमीन पर मेडिकल कॉलेज की तर्ज पर अस्पताल भी बनवाया। लेकिन आती-जाती सरकार और मशीनरी तंत्र दानवीर के सपनों को संभालने में असमर्थ दिखाई दे रहा है।

ऐसा इसलिए, क्योंकि 63 साल बाद भी शासन जिला अस्पताल में रिक्त चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की पूर्ति नहीं कर पाया है। दानवीर परिवार ने लोगों की भलाई के लिए अस्पताल के लिए भूमि दान दी थी। क्योंकि उस समय मरीजों को इलाज के लिए दूसरे जिलों में जाना पड़ता था।

61 के सापेक्ष 27 चिकित्सक कार्यरत
SBD अस्पताल में 61 पद स्वीकृत है, लेकिन कई सालों से 27 चिकित्सक ही कार्यरत है। वहीं बाल रोग विशेषज्ञ की बात करें तो दो एसबीडी अस्पताल, एक महिला अस्पताल पर तैनात है। इसी प्रकार 132 के सापेक्ष 58 अन्य स्वास्थ्य कर्मी तैनात है। जिसमें 30 वार्ड ब्वाय, 4 फार्मासिस्ट है। वहीं करीब 78 आउट सोर्सिंग कर्मचारी है।

यह है चिकित्सकों की स्थिति

पदनामस्वीकृत पदकार्यरत पदरिक्त पद
प्रमुख अधीक्षक010100
फिजीशियन030003
चैस्ट फिजीशियन020101
बाल रोग विशेषज्ञ030201
रेडियोलॉजिस्ट030102
पैथोलाजिस्ट040301
नेत्र चिकित्सक030300
एनेस्थेटिस्ट040202
ईएमओ130211
आर्थोपेडिक सर्जन050401
सर्जन070304
त्वचा रोग विशेषज्ञ010100
दंत रोग विशेषज्ञ010001
कार्डियोलॉजिस्ट020002
कम्यूनिटी मेडिसिन000100
प्लास्टिक सर्जन010001
मनोरोग विशेषज्ञ010001
यूरो सर्जन010001
न्यूरो सर्जन010001
न्यूरो फिजीशियन010001
नैफ्रोलॉजिस्ट010001
अधीक्षक, स्टोर प्रभारी010001
कुल612736

पैरामेडिकल स्टाफ की स्थिति

स्टाफस्वीकृत पदकार्यरत पदरिक्त पद
उप नर्सिंग अधीक्षिका000100
सहायक नर्सिंग अधीक्षक020101
नर्सिंग सिस्टर161006
उपचारिका741460
प्रभारी अधिकारी फार्मेसी010100
चीफ फार्मासिस्ट040400
प्रधान सहायक010100
वरिष्ठ सहायक010200
कनिष्ठ सहायक030102
स्टोर कीपर010100
वरिष्ठ लैब टेक्नीशियन030201
लैब टेक्नीशियन070700
एक्स-रे टेक्नीशियन010100
डेंटल हाईजिनिस्ट010100
ईसीजी टेक्नीशियन010001
नेत्र सहायक020101
इलेक्ट्रिशियन010001
स्वास्थ्य कार्यकर्ता महिला010100
जनरेटर ऑपरेटर010001
वाहन चालक020200
डार्क रुम सहायक010100
फिजियोथरेपिस्ट010001
आकुपेशनल थेरेपिस्ट010001
कुल1325949

चतुर्थ क्लास कर्मचारियों की स्थिति

स्टाफस्वीकृत पदकार्यरत पदरिक्त पद
वार्ड ब्वाय403010
वार्ड आया100206
चौकीदार060204
सफाई कर्मचारी/WB261016
धोबी040202
माली030201
कुक/कहार080305
लैब अटैंडेंट020200
भिश्ती040301
चपरासी020200
पंप ऑपरेटर010100
पंप क्लीनर010001
वियरर010001
कुल1085949

सीएमएस डा.रमेश चंद्रा का कहना है कि समय-समय पर चिकित्सकों और स्टाफ की कमी को लेकर पत्र लिखा जाता है। लेकिन अभी तक शासन की ओर से कोई नियुक्ति नहीं हुई है। जल्द ही नियुक्ति कराने का आश्वासन मिला है।

खबरें और भी हैं...