सहारनपुर में गौ तस्कर का एनकाउंटर:पुलिस को देखते ही की थी ताबड़तोड़ फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में पैर में लगी गोली, अस्पताल में दम तोड़ा

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने यह भी बताया कि मौके से प्लास्टिक के बोरे और पॉलिथिन बैग भी बरामद हुए हैं। जिससे यह माना जा रहा है कि गौमांस वहां से कहीं और सप्लाई किया जाना था। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने यह भी बताया कि मौके से प्लास्टिक के बोरे और पॉलिथिन बैग भी बरामद हुए हैं। जिससे यह माना जा रहा है कि गौमांस वहां से कहीं और सप्लाई किया जाना था।

सहारनपुर के थाना कोतवाली देवबंद के थीथकी के जंगल में पुलिस की रविवार देर रात करीब 1 बजे दो गौ तस्करों से मुठभेड़ हो गई। गौ तस्करों ने देखते ही गोली चला दी। जवाबी फायरिंग में गोली लगने से एक गो तस्कर घायल हो गया।

पुलिस ने यसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं उसके एक साथी को गिरफ्तार भी किया गया है।

पुलिस ने मौके से 250 किलो मांस और कटान के उपकरण बरामद किए हैं। तस्कर के मौत की खबर सुनकर एसपी सिटी राजेश कुमार, एसपी देहात अतुल शर्मा, सीओ द्वितीय सहारनपुर, सीओ देवबंद भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की छानबीन की। पुलिस ने गोकशी के मामले में 6 से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। जिसमें मृतक भी शामिल है।

पुलिस को देख गौ तस्करों में मची भगदड़

पुलिस को देर रात लगभग 1 बजे सूचना मिली की महतौली रोड पर ग्राम थीथकी के जंगल में बडे़ पैमाने पर गौकशी हो रही है। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस को देखकर गो तस्करों में अफरा तफरी मच गई। पुलिस का दावा है कि गोकशी करने वालों ने अपने को पुलिस से घिरा देख उनके ऊपर फायर किया। जिसमें थितकी निवासी जीशान (43) पुत्र मोहसिन की टांग में गोली लग गई और वह घायल होकर वहीं गिर पड़ा।

पुलिस ने यह भी दावा किया कि मौके से गांव थितकी के ही असील को गिरफ्तार किया गया है। जबकि अन्य साथी भागने में सफल रहे। पुलिस फरार आरोपियों की तलाश में दबिश डाल रही है। गिरफ्तार असील व मृतक जीशान से दो तमंचे व दो जिंदा कारतूस तथा दो खोके बरामद होने का भी दावा किया है।

पुलिस ने यह भी बताया कि मौके से प्लास्टिक के बोरे और पॉलिथिन बैग भी बरामद हुए हैं। जिससे यह माना जा रहा है कि गौमांस वहां से कहीं और सप्लाई किया जाना था।

गांव के प्रतिष्ठित परिवार से था मृतक का संबंध

मृतक ग्राम थीथकी के प्रतिष्ठित परिवार से था सपा सरकार में मृतक जीशान के चचेरे भाई ईसा रजा दर्जा प्राप्त मंत्री रह चुके हैं। मृतक के लगभग 40 बीघा जमीन है और खेतीबाड़ी का काम करता था। गांव में चर्चा भी थी कि मृतक के खिलाफ कभी कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ और वह खेतीबाड़ी का ही काम करता था। मृतक के चचेरे भाई ईसा रजा ने इस घटना की जांच की मांग की है।

वीडियोग्राफी कर चिकित्सकों का पैनल करेगा पोस्टमार्टम

छापेमारी के दौरान जीशान के पैर में तमंचे से पैर में गोली लगने से हुई मौत को परिजना व ग्रामीण संदिग्ध मान रहे हैं। चिकित्सकों का पैनल बनाया गया है। जो वीडियोग्राफी के साथ मृतक का पोस्टमार्टम करेगा।

पुलिस ने जिम्मेदार लोगों की मौजूदगी में गोमांस कराया दफन

पुलिस ने ग्राम थीथकी के प्रधान गुलबहार व आसपास के अन्य प्रधानों सहित कुछ जिम्मेदार लोगों को मौके पर बुलाकर जेसीबी की मदद से बरामद गौमांस को मौके पर ही दफन करा दिया। पुलिस ने चिकित्सक व अन्य विशेषज्ञों को भी मौके पर ही बुलाया और जांच करायी की बरामद मांस गौवंश का है।

एसपी सिटी राजेश कुमार का कहना है कि पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर छापेमारी की थी। पुलिस को देखकर गो तस्करों में भगदड़ मच गई थी। गो तस्करों ने पुलिस को देखकर फायरिंग शुरू कर दी। जिस कारण जीशान की टांग में गोली लगी है। जिस कारण व्यक्ति की मौत हो गई। मामले में छह से ज्यादा आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...