• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Saharanpur
  • Rakesh Tikait Said, The Government Is After The Land, If The Farmers Cannot Do Farming Then They Should Do Some Other Work, The Youth Should Stay Away From Drugs

'भाकियू 26 जनवरी को निकालेगी ट्रैक्टर यात्रा':राकेश टिकैत बोले- सरकार जमीन के पीछे पड़ी है, किसान खेती नहीं कर सकते तो कोई ओर काम करें

मुजफ्फरनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व पीएम की जयंती पर हवन यज्ञ में आहूति डालते भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत व अन्य। - Dainik Bhaskar
पूर्व पीएम की जयंती पर हवन यज्ञ में आहूति डालते भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत व अन्य।

मुजफ्फरनगर के सिसौली में पूर्व पीएम स्व.चौधरी चरण सिंह की 120वीं जयंती पर भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौ.राकेश टिकैत ने कहा, सरकार जमीन के पीछे पड़ी हुई है। सरकार जमीन के पीछे पड़ी हुई है, यदि आप खेती किसानी नहीं कर सकते तो आप दूसरी तरह के काम करिए। जिससे परिवार का पालन पोषण हो सके। जमीन को बंजर छोड़ दो, मगर उसको बेचों मत। जितना अधिकार आपका जमीन पर है, उतना ही अधिकार आपके आने वाली पीढ़ियों का इस जमीन पर है।

26 जनवरी को निकालेंगे ट्रैक्टर यात्रा

पूर्व पीएम स्व.चौधरी चरण सिंह के गांव सिसौली में अपने विचार रखते भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत।
पूर्व पीएम स्व.चौधरी चरण सिंह के गांव सिसौली में अपने विचार रखते भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत।

टिकैत ने कहा, 26 जनवरी को ट्रैक्टर यात्रा निकालने का इशारा किया। कब, कहां से कहां तक ट्रैक्टर यात्रा निकालनी है। इसको लेकर सूचना देने की बात कही। उन्होंने कहा, ट्रैक्टर यात्रा में अनुशासन बना रहना चाहिए।

भाकियू राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा, किसानों व युवाओं को आपसी मतभेद भुलाकर एक होकर अपने हक की लड़ाई लड़नी होगी। युवाओं को नशे की राह छोड़कर अपने हक की लड़ाई लड़ना सीखना होगा। हम रहे ना रहे, लेकिन किसानों के हक की लड़ाई जारी रहनी चाहिए।

सिसौली में 20 करोड़ रुपये नशे में गवा रहे युवा

सिसौली गांव में राकेश टिकैत को विचारों को सुनते ग्रामीण व अन्य।
सिसौली गांव में राकेश टिकैत को विचारों को सुनते ग्रामीण व अन्य।

राकेश टिकैत ने कहा, सभी चैनल सरकार के अधीन है। इसलिए सभी को टीवी पर दिखाई जाने वाली डिबेट का बहिष्कार कर अपने पारंपरिक खेल जैसे कबड्डी और कुश्ती आदि को बढ़ावा देना चाहिए। आज की युवा पीढ़ी नशे की ओर बढ़ रही है।

अगर आंकड़ों की बात करें तो अकेले सिसौली कस्बे से ही 18 से 20 करोड़ रुपए एक साल में नशे में खर्च हो जाते होंगे। युवा पीढ़ी को समझना होगा, नशे से दूर रहकर ही अपने परिवार का व अपने देश का भविष्य बना सकते हैं। उन्होंने युवाओं से अपील की युवाओं को यह भी समझना होगा।

खबरें और भी हैं...