सहारनपुर...एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत:पुण्यतिथि में शामिल होकर फरीदाबाद से लौट रहा था परिवार, डिवाइडर से टकराई कार, पीछे की सीट पर बैठे 3 की गई जान; दो गंभीर

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक अशोक सलूजा और उनकी पत्नी चंदा सलूजा। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
मृतक अशोक सलूजा और उनकी पत्नी चंदा सलूजा। - फाइल फोटो

सहारनपुर के थाना नागल रोड पर बुधवार सुबह करीब 5 बजे एक कार डिवाइडर से टकरा गई। कार की पीछे की सीट पर सवार एक ही परिवार के 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने बमुश्किल तीनों शवों को कार से बाहर निकाला गया। थाना नागल इंस्पेक्टर बीनू चौधरी ने बताया कि घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां से परिजन दोनों घायलों को निजी अस्पताल में ले गए। तीनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

फरीदाबाद से वापस लौट रहा था परिवार
मामला थाना कोतवाली सदर बाजार के रेलवे रोड का है। यहां के निवासी अशोक सलूजा (60) अपने साले की पुण्यतिथि में शामिल होने के लिए 27 सितंबर को फरीदाबाद गए थे। बीते मंगलवार की देर रात अशोक कार से पत्नी चंदा सलूजा (55), बेटे अमित सलूजा (35) और बड़े साले मदन लाल नरुला (58), उनकी पत्नी पिंकी संग सहारनपुर वापस लौट रहे थे।

बुधवार सुबह करीब 5 बजे दिल्ली-देहरादून नेशनल हाईवे 344 पर कार एक डिवाइडर से टकरा गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखचे उड़ गए। कार में पीछे बैठे अशोक सलूजा, पत्नी चंदा सलूजा और साले मदन लाल नरूला की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि आगे की सीट पर बैठे अमित सलूजा व पिंकी गंभीर चोट आई है।

मोर्चरी पर इकट्‌ठा परिजन
मोर्चरी पर इकट्‌ठा परिजन

साले की पुण्यतिथि में शामिल होने गए थे फरीदाबाद
अशोक सलूजा के छोटे साले की मौत पिछले साल कोरोना के कारण हो गई थी। साले की पुण्यतिथि 27 सितंबर की थी। जिसमें वह शामिल होने के लिए गए थे। तभी घर वापस आते हुए उनके साथ यह हादसा हो गया। परिजनों ने बताया कि फरीदाबाद में परिजन उन्हें रोक रहे थे। लेकिन देर रात को सड़क खाली मिलने की बात कहकर परिवार कार में सवार होकर निकल गया।

खबरें और भी हैं...