पुलिस की कार्यप्रणाली से परेशान युवक ने जहर खाया:सहारनपुर में पीड़ित युवक के पिता बोले;मेरा बेटा सब अधिकारियों को प्रार्थना पत्र दे चुका लेकिन किसी ने कार्रवाई नहीं की

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

सहारनपुर के थाना कोतवाली सदर बाजार के मोहल्ला गोविंद नगर में निमिष छाबड़ा ने पुलिस की कार्यप्रणाली से तंग आकर शनिवार की देर शाम को जहर खा लिया। परिजनों ने युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। युवक ने क्रिकेट सट्‌टे के कारोबारी खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर डीएम, एसएसपी व थाने में तहरीर दें चुका है। पीड़ित युवक के पिता का कहना है कि मेरे बेटे ने सभी अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई लेकिन आज तक भी किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।
पुलिस नहीं कर रही थी कार्रवाई
गोविंदनगर निवासी निमिष छाबड़ा ने शनिवार की देर शाम को जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। परिजन युवक को आनन-फानन में जिला अस्पताल लेकर आ गए। हालांकि युवक की हालत में सुधार बताया जा रहा है। युवक के पिता देवेंद्र छाबड़ा ने बताया कि कुछ युवक मेरे बेटे को पैसों के लिए परेशान कर रहे हैं। जो उसने ब्याज पर लिए थे। युवक के पिता का कहना है कि उसका बेटा पहले ही सारा कर्ज दे चुका है। जिसके लिए निमिष पहले ही डीएम, एसएसपी और थाने में तहरीर दे चुका है। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।
27 अगस्त को डीएम से लगाई थी गुहार
निमिष छाबड़ा ने 27 अगस्त को जिलाधिकारी अखिलेश को प्रार्थना पत्र देकर जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी। निमिष ने प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया था कि 26 अगस्त को एक युवक अपने एक अन्य साथी के साथ रिवाल्वर के दम पर अपनी बाइक पर बैठा लिया था। और रामनगर में अपने फार्म हाउस पर ले गए। जहां से 12 घंटे तक बंधक बनाकर रखाकर मारपीट करने का आरोप लगाया था। पीड़ित युवक ने आरोप लगाया था कि आरोपी युवक ने एक बार हवा में फायर की और दूसरी बार मेरे पर फायर की थी। पीड़ित का आरोप था कि 20 हजार रुपये न देने पर जान से मारने की धमकी दी थी।
एसएसपी डा.एस चनप्पा का कहना है कि मामला संज्ञान में नहीं है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...