पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Saharanpur
  • The Sister Of The Deceased Created A Ruckus For Not Doing The Postmortem, Threatened The Police To Remove The Uniform; The Doctor Said There Was A Mark On The Throat

सहारनपुर में युवती की संदिग्ध परिस्थिति में मौत:मृतका की बहन ने पोस्टमॉर्टम न करने के लिए किया हंगामा, पुलिस को दी वर्दी उतरवाने की धमकी; डॉक्टर ने कहा- गले पर था निशान

सहारनपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिसकर्मी शव को मोर्चरी में रखने लगे तो मृतका की बहन ने पुलिस को वर्दी उतरवाने की धमकी दे देने लगी। - Dainik Bhaskar
पुलिसकर्मी शव को मोर्चरी में रखने लगे तो मृतका की बहन ने पुलिस को वर्दी उतरवाने की धमकी दे देने लगी।

सहरानपुर के थाना सदर बाजार के मोहल्ला पंजाबी बाग में एक युवती की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस युवती शव को जिला अस्पताल ले आए। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने के लिए परिजनों से कहा तो परिजन पोस्टमॉर्टम न कराने पर अड़ गए। जिसके बाद परिजन बिना पोस्टमॉर्टम के ही युवती का शव लेकर घर चले गए। मृतक युवकी प्रदेश के मंत्री की रिश्तेदार बताई जा रही है।

बिना पोस्टमॉर्टम के परिजन ले गए शव

थाना सदर बाजार की सिविल लाइन चौकी इलाके के पंजाबी बाग में 28 साल की एक युवती की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मामला शाम 7.30 बजे का बताया जा रहा है। जानकारी अनुसार, युवती की मौत के बाद किसी ने डायल 112 पर कॉल कर दी। तभी पुलिस मौके पर पहुंच गई और युवती को जिला अस्पताल ले आई और शव को पोस्टमार्टम के लिए रखने लगे। तभी मृतका की बहन ने हंगामा खड़ा कर दिया। जिसके बाद चौकी इंचार्ज गजेंद्र सिंह ने महिला सिपाही और फोर्स मंगवा ली। लेकिन तब भी मृतका की बहन ने शव को मोर्चरी में नहीं रखने दिया और बार बार फोन मिलाकर किसी को बुलाती रही।

पुलिस को दी वर्दी उतरवाने की धमकी
जब पुलिसकर्मी शव को मोर्चरी में जबरन रखने लगे तो मृतका की बहन ने पुलिस को वर्दी उतरवाने की धमकी दे देने लगी और बोलने लगी कि हम मंत्री के रिश्तेदार हैं। तभी पुलिसकर्मी घबरा गया और शव के पास से हट गया।

परिजन बता रहे दम घुटने से हुई मौत
परिजनों का कहना है कि युवती की मौत दम घुटमे से हुई है। किसी ने चुपचाप डायल-112 पर फोन कर दिया था। जिसके बाद पुलिस आ गई और जिला अस्पताल शव को लेकर आ गए। लेकिन डॉ. परवेज का कहना है कि मामला संदिग्ध है। लड़की के गले पर निशान है और होठ नीले पड़ गए हैं। पोस्टमॉर्टम के बाद ही कुछ कह जा सकता है।

चौकी इंचार्ज गजेंद्र सिंह का कहना कि जब तक पोस्टमॉर्टम नहीं होगा, तब तक कुछ कहा नहीं जा सकता है। परिजन पोस्टमॉम से को इनकार कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...