दो नेताओं के रुपयों के लेनदेन की ऑडियो वायरल:बसपा मंडल प्रभारी व नगर अध्यक्ष की बताई जा रही ऑडियो क्लिप, निकाय चुनाव के टिकट लेनदेन की कर रहे बात

रामपुर मनिहारान16 दिन पहले
बसपा नेताओं के बीच रुपयों के लेनदेन का वायरल वीडियो।

उत्तर प्रदेश की राजनीति में पैसों की भूमिका किसी से भी छिपी नहीं है। कई बार चुनाव में वोटरों को खरीदने के मामले चर्चा में आ चुके हैं। ताजा मामला सहारनपुर के रामपुर मनिहारान से प्रकाश में आया है। जहां बहुजन समाज पार्टी के दो नेताओं का पैसों के लेनदेन की बातचीत का ऑडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जो बसपा के मंडल प्रभारी नरेश गौतम वह रामपुर मनिहारान नगर अध्यक्ष कर्म सिंह के बीच हो रही बातचीत का ऑडियो है।

पूर्व में भी बसपा पर विधानसभा, विधान परिषद, पंचायत और निकाय चुनाव में टिकट देने के बदले पैसे लिए जाने के आरोप लगते रहे हैं। एक बार फिर निकाय चुनाव से पहले बसपा मण्डल प्रभारी व नगर अध्यक्ष के बीच पैसों के लेनदेन को लेकर 8 मिनट 39 सेकेंड का ऑडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें बसपा के दो नेताओं के बीच पैसे के लेनदेन से लेकर सांसद तक पर दलित समाज की अनदेखी करने के आरोप लगाए जा रहे है।

ऑडियो बिल्कुल सही है- कर्म सिंह
यह ऑडियो बसपा के नगर अध्यक्ष कर्म सिंह द्वारा जान बूझकर वायरल करना बताया जा रहा है। इस बारे में दैनिक भास्कर की टीम बसपा नगर अध्यक्ष कर्म सिंह से ऑडियो की सच्चाई जानने पहुंची, तो उन्होंने ऑडियो को बिल्कुल सही बताते हुए मण्डल प्रभारी नरेश गौतम पर चुनाव में टिकट के नाम पर वसूली का आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाए जाने की मांग की। बातचीत में कर्म सिंह ने बसपा के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम की छवि पर भी सवाल उठाए है।

बसपा नेताओं की बातचीत के कुछ अंश

नरेश गौतम- आदेश कुछ नहीं, चुनाव किसे लड़ा रहे है वहां से,

कर्म सिंह- जी मान्यवर जिसे आप कहो उसे लड़वा लो, हमें क्या दिक्कत है

नरेश गौतम- आपको दिक्कत क्यों नहीं है आप अध्यक्ष हो नगर के

कर्मसिंह- नहीं अध्यक्ष जी एक बात तो बताओ जब पहले ही वहां से अमाउंट आ गया

नरेश गौतम- कहां से, अमाउंट कहां से गया,

कर्म सिंह- अनिल अग्रवाल से

नरेश गौतम- सुन मेरी बात सदस्यता के पैसे गए हैं, सबके तुमने भी दिए हैं 20 हज़ार

कर्म सिंह- में बताऊं जी 20 हज़ार आबिद के गए 20 जोगिंदर, 20 रविंदर, 20 असलम ने दिए

नरेश गौतम- चंदा ही तो लिया है बस टिकट थोड़ी कर दिया

कर्म सिंह- माननीय अध्यक्ष जी आप बड़े भाई हो आपको हमारे से ज्यादा ज्ञान हैं, हम अज्ञानी हैं, मान्यवर हमारा कहने का तात्पर्य है,

नरेश गौतम- पूरी बात सुन मेरी जिसे तुम कहोगे टिकट उसे होगा। तुम अध्यक्ष हो नगर के, जब टिकट का नंबर आएगा तब कहना

कर्म सिंह- जिस आदमी ने बीजेपी पार्टी का समर्थन किया हो और 10 साल से पार्टी में ना हो आप उसे सदस्यता दे रहे हैं

नरेश गौतम- जितने लोगों ने पैसे दिए हैं, कौन हमारे साथ रहा बता मुझे

कर्म सिंह- हम तो निर्दलीय भी जीत जाएंगे किसी में ताकत भी नहीं हमें हराने की, हमारी बस्ती है, हमें कोई हराने की ताकत नहीं रखता, हमारे कहने का मतलब यह है कि जिस आदमी ने बीजेपी के समर्थन में काम किया है। हम उसके समर्थन में कैसे जाएं और दूसरी बात यह है कि 2007 में वह चेयरमैन बना, सारे लोग ठेकेदार बनाए उसने, ना हमारे समाज(दलित) की कोई हिस्सेदारी न किसी को नौकरी पर रखा, तो हमारा कौन लगता है, क्या आप समाज को नहीं चाहते हमारा प्रत्याशी हार जाए हमें कोई दिक्कत नहीं पर गर्व से हारे!

नरेश गौतम- अब यह बताओ उस से पैसे लेना बुरी बात है क्या

कर्म सिंह- बिल्कुल बुरी बात है, आप यह कहते नगर अध्यक्ष को पूछो किसने पार्टी में कितना काम किया। अनिल चेयरमैन यह कह रहा है, ऐसे नगर अध्यक्ष बहुत मिले, टिकट इनके हाथ में थोड़ी है। टिकट हम लाएंगे रोक के दिखा दे कोई।

नरेश गौतम- तेरी मर्जी के बिना किसी का टिकट नहीं होगा

कर्म सिंह- अध्यक्ष जी आप की कोठी पर कह कर आया था। चेयरमैन नहीं जीतने का कर्म सिंह के होते हुए रामपुर में गारंटी किस बात की, उल्टा सूड़ दूंगा उसे जहां से निकला है, कल की जगह आज निकाल दो मुझे पार्टी से और जीत वालों चेयरमैन।

इस बातचीत में सहारनपुर के बसपा सांसद हाजी फजलुर्रहमान पर भी दलित समाज की अनदेखी करने का आरोप लगाया है।

खबरें और भी हैं...