पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संभल...चुनावी रंजिश में फायरिंग, 1 की मौत:ये डंडा मेरा है...पर भिड़े बच्चे, बड़ों ने बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, एक घायल; गांव में फोर्स तैनात

21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गांव में तनाव के माहौल को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है। - Dainik Bhaskar
गांव में तनाव के माहौल को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है।

संभल के असमोली थाना क्षेत्र के गांव में चुनावी रंजिश में सोमवार रात दो पक्ष आमने-सामने आ गए। बताया जा रहा है कि दो बच्चे गिल्ली डंडा खेल रहे थे तभी ये डंडा मेरा है, बोलकर आपस में झगड़ने लगे। मामले की सूचना पर दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए। मारपीट के बाद ताबड़तोड़ फायरिंग होने लगी। फायरिंग में गोली लगने से एक बुजुर्ग की मौत हो गई। जबकि दूसरे पक्ष का एक व्यक्ति घायल हो गया। गांव में फायरिंग की सूचना पर एसपी, एएसपी और सीओ सहित कई थानों का पुलिस बल रात में ही घटनास्थल पर पहुंच गया।

एक युवक के हाथ में लगी गोली

दरअसल, सोमवार रात असमोली थाना क्षेत्र के गांव शाहपुर डसर में दो पक्षों के बच्चों के बीच हुए विवाद ने बड़ा रूप ले लिया। दोनों पक्षों के बीच ग्राम प्रधान चुनाव की रंजिश के चलते दोनों पक्षों के बीच विवाद बढ़ गया। देखते ही देखते कुछ ही देर में मारपीट के साथ फायरिंग शुरू हो गई। जिसमें 65 वर्षीय अब्दुल रजाक की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। परिजन बुजुर्ग को लेकर संभल जिला अस्पताल पहुंचे लेकिन डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया। वहीं दूसरे पक्ष के भी युवक के हाथ में गोली लगी। जिसको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

65 वर्षीय अब्दुल रजाक की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई ।
65 वर्षीय अब्दुल रजाक की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई ।

गांव में तनाव का माहौल

गांव में बवाल की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा और अपर पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार जयसवाल व सीओ अरुण कुमार सिंह पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। जिसके बाद गांव में तनातनी के हालात को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

दूसरे पक्ष के भी युवक के हाथ में गोली लगी। जिसको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।
दूसरे पक्ष के भी युवक के हाथ में गोली लगी। जिसको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सोमवार सुबह को भी हुआ था विवाद

बताया जा रहा है कि सोमवार सुबह को भी दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ था और दोनों पक्षों के बीच मारपीट भी हुई थी। लेकिन उसके बाद मामला शांत हो गया था और कोई पुलिस कार्यवाही नहीं हुई थी। ग्रामीणों का कहना यह है कि यह विवाद गांव में प्रधानी चुनाव की रंजिश को लेकर हुआ है। गांव शाहपुर डसर की सीट रिजर्व होने के कारण कौरव पक्ष ने अपने-अपने समर्थित प्रत्याशी प्रधानी चुनाव के मैदान में उतारे थे। चुनाव मैं एक पोस्टर प्रधान बन जाने के बाद से दूसरा पाठ चुनावी रंजिश मान रहा था।

पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा ने बताया कि दो पक्षों के बीच हुए विवाद में 65 वर्षीय एक बुजुर्ग अब्दुल रजाक की गोली लगने से मौत हुई है। शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है अप पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। असमोली थाना प्रभारी डीके शर्मा का कहना है कि मृतक बुजुर्ग के बेटे की तहरीर के आधार पर तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...