संतकबीरनगर में सॉल्वर गिरफ्तार:टीजीटी के पेपर में दूसरे की जगह दे रहा था परीक्षा, बदले में मिलने थे 50 हजार रुपए

संतकबीरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संतकबीरनगर में पुलिस ने टीजीटी की परीक्षा देते हुए एक सॉल्वर को किया गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
संतकबीरनगर में पुलिस ने टीजीटी की परीक्षा देते हुए एक सॉल्वर को किया गिरफ्तार।

संतकबीरनगर में टीजीटी यानी कि ट्रेन्ड ग्रेजुएट टीचर परीक्षा के दौरान दूसरे की जगह परीक्षा देते हुए बिहार के सॉल्वर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। परिचय पत्र में चेहरा मिलान न होने पर व्यवस्थापक को उस पर शक हो गया था। उसने बताया कि इसके बदले में उसे 50 हजार रुपए मिलने वाले थे। हालांकि वह अपनी मर्जी से नहीं आया था बल्कि उसे एक गिरोह चलाने वाले सरगना ने भेजा था।
परिचय पत्र चेक करते वक्त हुआ शक
मामला जिले के हीरा लाल इंटर कॉलेज का है। यहां शनिवार को टीजीटी की परीक्षा हो रही थी। व्यवस्थापक क्लास में सभी अभ्यार्थियों के परिचय पत्र जांच रहे थे। तभी एक अभ्यार्थी फूलचंद के पहचान पत्र की फोटो वहां बैठकर परीक्षा दे रहे गौरव कुमार के चेहरे से नहीं मिल रही थी। व्यवस्थापक को शक हुआ तो प्रधानाचार्य को इसकी सूचना दी। प्रिंसीपल ने तुरंत पुलिस को बुलाया।

पूछताछ में किया खुलासा
पुलिस ने गौरव को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। जिसमें उसने बताया कि वह बिहार का रहने वाला है। उसे सॉल्वर का गिरोह चलाने वाले सरगना ने यहां एग्जाम देने के लिए भेजा है। इसके बदले में उसे 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। पुलिस ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पूरे मामले पर पुलिस जांच पड़ताल कर रही है। जल्द ही पूरे मामले में मास्टरमाइंड का खुलासा किया जाएगा।