तालाब पर भू-माफियाओं ने कब्जे के लिए से डाली मिट्टी:पैमाइश करनी राजस्व टीम से की अभद्रता

जलालाबाद11 दिन पहले

तहसील जलालाबाद क्षेत्र के गांव नगरिया बुजुर्ग में तालाब की पैमाइश करने गए राजस्व विभाग के कर्मचारियों के साथ खेत मालिक उसके साथ आए अन्य साथियों ने मारपीट की। ताकि इसके बाद तालाब पर कब्जे की पैमाइश स्थगित कर दी गई और दोबारा से पुलिस फोर्स के साथ पैमाइश की बात कही।

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद के तहसील जलालाबाद क्षेत्र के ग्राम नगरिया बुजुर्ग में कुलदीप में गाटा संख्या 245 खेत खरीदा ,जो कि तालाब में तब्दील था। खेत का रकबा 7 बीघा बताया गया। इसमें अवैध रूप से मिट्टी खनन कर के करीब 3 मीटर गहरी मिट्टी डाली गई। कोई भी परमिशन नहीं ली गई। खनन की मिट्टी खन्ना के खेत से खोदी गई और जिसको वर्मा नाम के एक ठेकेदार ने मिट्टी डालने का काम किया। क्योंकि अवैध रूप से खनन हो रहा था मिट्टी अधिकतर रात में डाली गई ।जिसमें कई लोगों के सांठगांठ में संलिप्त होने की बात सामने आई।

भूमाफिया अवैध रूप से तालाब रहे पाट
वही मिट्टी की कोई परमिशन नहीं ली गई इसके बयान खुद कुलदीप ने लोगों को बताएं। वहीं तमाम लोगों ने व मीडिया के लोगों ने यह आवाज उठाई कि कुछ भूमाफिया अवैध रूप से तालाब पाट रहे हैं। जिस पर उप जिला अधिकारी बरखा सिंह ने मौके पर बीते दिन दोपहर बाद कानूनगो जोगिंदर सिंह, लेखपाल रजनीश आदि को भेजा तो इन्होंने कुलदीप के खेत का रकबा नापने की बात की ।जिस पर कुलदीप पक्ष के लोगों ने आपत्ति जताई और टीम के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग किया और कहा कि आप तालाब नापने आए हो मेरा खेत क्यों नाप रहे हो। तालाब का रकबा पूरा करो उसके बाद हमारा खेत नापना।

तालाब की जमीन पर कब्जा
इसके बाद जब बाद विवाद बढ़ गया तो नाप करने का काम स्थगित कर दिया गया। वहीं राजस्व निरीक्षक जोगिंदर सिंह ने बताया कुलदीप व अन्य लोगों ने तालाब की जमीन पर कब्जा कर लिया है। इन्होंने नाप करने में बाधा उत्पन्न की ।साथ ही जो मिट्टी डाली गई वह अवैध रूप से खनन है। और इसकी रिपोर्ट बनाकर रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को प्रेषित कर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...