गंगा में जिंदगी के रिस्क का सफर:शाहजहांपुर में एक नाव पर 15 से 20 लोग, बाइक भी लादकर ले जा रहे, पुल टूटने से बढ़ी समस्या

शाहजहांपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पैसों के लालच में लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहे नाविक। - Dainik Bhaskar
पैसों के लालच में लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहे नाविक।

शाहजहांपुर में पुल टूटने के बाद एक पार से दूसरी पार ले जाने के लिए नाविक लोगों से मनमानी वसूली कर रहे हैं। पुल टूटने से तहसील का संपर्क मुख्यालय से पूरी तरह से टूट चुका है। स्थानीय लोगों को कमाने के लिए नाव के सहारे नदी को पार करना पड़ रहा है।

एक तरफ का ले रहे 20 रुपए

नाव को चलाने वाले उनसे मनमाना दाम वसूल कर रहे हैं। मजदूरी मिले या नहीं लेकिन मजदूर को नदी पार करने के लिए एक तरफ का बीस रुपए किराया चुकाना पड़ रहा है। अगर कोई बाइक को नाव पर रखकर ले जाता है, तो उसे 50 रुपए देने पड़ते हैं। नाविक पैसों के लालच में एक बार में क्षमता से ज्यादा लोगों को बैठा लेते हैं। एसडीएम ने मामले में जांच कराकर कार्रवाई की बात की है।

तीन हिस्सों में बंटकर टूट गया था पुल

मुख्यालय से कलान तहसील को जोड़ने वाला कोलाघाट पुल कुछ दिन पहले तीन हिस्सों में बंटकर टूट गया था। तहसील कलान वासी पुल से होकर मुख्यालय की तरफ आते थे। पुल टूटने के बाद नदी में कुछ लोगों ने नाव चलाना शुरू कर दिया। नाव के सहारे नदी को पार करने के एवज में पहले दस रुपए देने पड़ रहे थे। लेकिन अब वही नाव वाले लोगों से बीस रुपए वसूल रहे हैं।

जांच के बाद होगी कार्रवाई

कलान एसडीएम बरखा सिंह ने बताया कि उनको मनमाना दाम वसूल करने की जानकारी नहीं है। अब सूचना मिली है। वहां के सीओ से बातचीत कर दाम तय कर दिए जाएंगे। जब तक पुल नहीं बन जाता। साथ ही क्षमता से ज्यादा लोगों को नाव पर बैठाने के मामले में जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...