जितिन प्रसाद के चचेरे भाई ने थामा सपा का हाथ:शाहजहांपुर में अखिलेश यादव ने दिलाई जयेश प्रसाद को सदस्यता, उनकी टीम भाजपा विधायकों और मंत्रियों को दिखाएगी काले झंडे

शाहजहांपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शाहजहांपुर में जयेश प्रसाद ने मीडिया से की बातचीत। - Dainik Bhaskar
शाहजहांपुर में जयेश प्रसाद ने मीडिया से की बातचीत।

शाहजहांपुर में कैबिनेट मिनिस्टर जितिन प्रसाद के चचेरे भाई जयेश प्रसाद ने अपने करीब 1300 समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी ज्वाईन कर ली है। बुधवार को अखिलेश यादव ने अपने शाहजहांपुर के दौरे पर उनके घर जाकर पार्टी का झंडा देकर सदस्यता दिलाई। जयेश प्रसाद ने कहा की उनकी टीम भाजपा के विधायकों और मंत्रियों को काले झंडे दिखाकर उनको गांव, गलियों और शहरों में घुसने नहीं देगी।

जयेश प्रसाद भाजपा से किए गए थे निष्कासित
जयेश प्रसाद कुछ समय पहले भाजपा से निष्कासित कर दिए गए थे। जिसके बाद उन्होंने पार्टी के खिलाफ बागी तेवर दिखाने शुरू कर दिए। 2022 की चुनाव अब करीब है। ऐसे में लोग भाजपा के बाद सपा को ही दूसरी ऐसी पार्टी समझ रहे है। जो चुनाव में अपनी ताकत झोंक रही है। जयेश के साथ करीब 1300 समर्थकों ने भी पार्टी को अपना समर्थन दिया।

भाजपा को बताया तानाशाह सरकार
गुरूवार को जयेश प्रसाद ने कहा कि अखिलेश यादव ने उनके घर आकर उनको पार्टी की सदस्यता दिलाई है। भाजपा सिर्फ तानाशाही और हिटलर राज के तर्ज पर काम कर रही है। जयेश की पत्नी ने भाजपा के टिकट पर नगरपालिका चेयरमैन पद का चुनाव लड़ा था। जिसमें सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां की मां से वह हार गई थी।

खबरें और भी हैं...