शाहजहांपुर में कड़े पहरे में हुई ईद की नमाज:इमाम बोले- देश में चल रही नफरत की हवा को मोहब्बत की हवा में बदलें, SP ने दी बधाई

शाहजहांपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शाहजहांपुर में ईद-उल-फितर की नमाज ईदगाह में अदा की गई। इस दौरान एसपी और डीएम समेत भारी पुलिस बल मस्जिदों के बाहर तैनात रहा। नमाज के बाद हजारों लोगो ने हाथ उठाकर मुल्क की तरक्की के लिए दुआएं मांगी। उन्होंने कहा, देश में जो नफरत की हवाएं चल रही हैं। वह बंद हों और मोहब्बत की हवाएं चलें। वहीं एसपी ने भी नमाजियों के साथ गले मिलकर ईद की बधाई दी। साथ ही उन्होंने अपील भी की है, सभी लोग त्योहारों को आपस में मिल-जुलकर मनाएं।

ईद की नमाज में मुल्क की तरक्की के लिए मांगी गई दुआएं
शाहजहांपुर में सुबह से ही मुस्लिम समुदाय में ईद की नमाज को लेकर तैयारियां शुरू हो गई थीं। जिले में 72 जगहों पर ईद की नमाज अदा की गई। जिले की सभी मस्जिदों के बाहर पुलिस का कड़ा सुरक्षा का पहरा रहा। किसी तरह का कोई विवाद न हो, इसके लिए लाउडस्पीकर की आवाज को लेकर भी खास ध्यान दिया गया।

ईदगाह के बाहर तैनात पुलिस बल।
ईदगाह के बाहर तैनात पुलिस बल।

परिसर से बाहर लाउडस्पीकर की आवाज नहीं आने दी गई। नमाज पूरी होने के बाद पेश-ए-इमाम हुजूर अहमद मंजरी के साथ हजारों लोगों ने मुल्क की तरक्की के लिए दुआएं मांगी। पेश-ए-इमाम ने कहा, देश में नफरत फैलाने की हवा चल रही है, जिसको मोहब्बत की हवा में बदलना है। खासतौर पर उन्होंने देश के मुसलमानों से अपील की है, किसी के बहकावे में न आएं। अच्छी सोच के साथ मिल-जुलकर सभी त्योहारों को मनाएं।

नमाजियों ने एसपी को फूल देकर ईद की बधाई दी।
नमाजियों ने एसपी को फूल देकर ईद की बधाई दी।

इस बार मस्जिदों के बाहर सड़कों पर नहीं पढ़ी गई नमाज
ऐसा पहली बार हुआ है, किसी भी मस्जिद के बाहर सड़कों पर नमाज नहीं पढ़ी गई। लगातार पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर नियमों का पालन करने की अपील की। इससे पहले हर साल हर मस्जिद के बाहर सड़कों पर नमाज पढ़ी जाती थी, लेकिन इस बार किसी भी मस्जिद के बाहर लोग नमाज पढ़ते नहीं दिखे। वहीं एसपी एस आनंद ने बताया, शांतिपूर्ण तरीके से ईद की नमाज संपन्न हो गई है। उन्होंने सभी समुदायों से एक-दूसरे के त्योहारों को मिल-जुलकर मनाने की अपील की है।

खबरें और भी हैं...