शाहजहांपुर में बीएसए ऑफिस पहुंचे एडी बेसिक:अपनी सीट पर नहीं मिले कई कर्मचारी, सभी को फटकार लगाते हुए दी हिदायत

शाहजहांपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शाहजहांपुर में एडी बेसिक ने अभिभावकों को किया जागरूक - Dainik Bhaskar
शाहजहांपुर में एडी बेसिक ने अभिभावकों को किया जागरूक

शाहजहांपुर में बच्चों के नामांकन प्रक्रिया का जायजा लेने के लिए बुधवार को एडी बेसिक बीएसए दफ्तर पहुंच गए। बीएसए उनको मलीन बस्तियों में ले जाते। उससे पहले एडी बेसिक ने बीएसए दफ्तर का निरीक्षण करने की बात कर दी। जिसके बाद दफ्तर में हड़कंप मच गया।

निरीक्षण के दौरान दफ्तर में कई बाबू और दूसरी मंजिल पर बने दफ्तरों के कर्मचारी अपनी सीट पर नहीं मिले। जिसके बाद उन्होंने कर्मचारियों और बीएसए की फटकार लगाई।

बीएसए सीधे बस्तियों में ले जाना चाहते थे

जिले में सहायक शिक्षा निदेशक तृतीय बरेली मंडल गिरवर सिंह बीएसए दफ्तर पहुंच गए। बीएसए सुरेंद्र सिंह समेत सभी अधिकारी उनका स्वागत करने के लिए बीएसए कार्यालय के बाहर खड़े थे। एडी बेसिक के रूकते ही बीएसए ने उनसे मलीन बस्तियों में जाने के लिए कहा तो, एडी बेसिक ने उनसे वहां जाने से पहले बीएसए कार्यालय का निरीक्षण करने की इच्छा जता दी। फिर क्या था । दफ्तर में भगदड़ और हड़कंप मच गया। एडी बेसिक ने रजिस्टर मंगाए तो कई बाबू और जिला समंवयक अनुपस्थित मिले, उपरी मंजिल पर बने लेखा विभाग में पहुंचे तो वहां से भी कर्मचारी नदारद थे।

कई कर्मचारियों ने बताई देर से आने की वजह

उसके बाद एडी बेसिक बीएसए के दफ्तर में आ गए। पीछे-पीछे कई कर्मचारी उनके सामने हाथ जोड़ते हुए आए और देर से आने की समस्या बताने लगे। कई कर्मचारियों ने अपनी छुट्‌टी का प्रार्थना पत्र तक भिजवा दिया। साथ ही एक चपरासी को कार्यमुक्त न करने और एडी बेसिक ने तमाम खामियां मिलने पर बीएसए से नाराजगी जताई।

शत-प्रतिशत नामांकन करवाने के दिए निर्देश

बीएसए दफ्तर का निरीक्षण के बाद एडी बेसिक गिरवर सिंह अजीजगंज, नवादा इंदेपुर और काशीराम कालोनी जैसी मलीन बस्तियों में गए। जहां पर उनको बाहर खेलते मिले पांच साल के बच्चों के परिजनों से बात कर उनका स्कूल में एडमीशन कराने के लिए प्रेरित किया। साथ ही पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चो का आंगनबाड़ी केंद्र में प्रवेश कराकर उन्हें बाल वाटिका से जोड़ें। एडी बेसिक ने अधिकारियों से कहा कि शासन की मंशानुसार जिला बेसिक विद्यालयों में शत-प्रतिशत नामांकन कराने के निर्देश दिये हैं।

एडी बेसिक ने टीचरों को दी है चेतावनी

बीएसए सुरेंद्र सिंह ने बताया कि एडी बेसिक नामांकन बढ़ाने के लिए मलीन बस्तियों में गए थे। जहां पर उन्होंने टीचरों को नामांकन शत-प्रतिशत कराने के लिए चेतावनी दी। उसके बाद उन्होंने बस्तियों में जाकर लोगो से बात की। हालांकि बीएसए दफ्तर में निरीक्षण की बात से इंकार किया। उन्होंने कहा कि, कहीं भी कोई बाबू गैर हाजिर नहीं था। नामांकन कराने में बाबूओं का कोई काम नहीं होता है।

खबरें और भी हैं...