अपडेट होगी हिस्ट्रीशीटर लिस्ट:शाहजहांपुर SP बोले- 3 साल से अपराध से दूर हिस्ट्रीशीटरों के नाम होंगे बाहर, सक्रिय अपराधी होंगे शामिल

शाहजहांपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शाहजहांपुर में उन अपराधियों के लिए राहत भरी खबर है, जिन्होंने 3 साल से अपराध से तौबा कर लिया हो या फिर वह अपराधी सादगी के साथ जीवन-यापन कर रहे हैं, लेकिन उन अपराधियों के लिए बुरी खबर भी है, जिन्होंने वर्तमान समय में अपराध की दुनिया में कदम रखा है या फिर अपराध करने के बाद भी वह पुलिस की नजर से बच गए हैं।

सीएम योगी के आदेश के बाद एसपी ने सभी थानाध्यक्षों को निर्देश दिए हैं कि टॉपटेन हिस्ट्रीशीटरों की सूची को अपडेट कर उनमें वर्तमान में सक्रिय अपराधियों को शामिल कर अपराध छोड़ चुके अपराधियों को बाहर करें। जिले में करीब 1500 हिस्ट्रीशीटर हैं।

3 साल से अपराध से दूर, टॉपटेन सूची से होंगे बाहर
जिले में 1500 हिस्ट्रीशीटर हैं, जिसमें से सबसे ज्यादा 300 हिस्ट्रीशीटर सिटी सर्कल के रहने वाले हैं। कई ऐसे हिस्ट्रीशीटर हैं, जिन्होने पिछले करीब 3 साल से कोई भी अपराध नहीं किया है। कोई भी बड़ी घटना हो जाने पर पुलिस सबसे पहले उन्हीं अपराधियों के घर दबिश देकर गिरफ्तार करती है और उनके ऊपर कार्रवाई कर देती है। कई ऐसे अपराधी भी हैं, जिन्होंने अपराध की दुनिया छोड़कर अपने परिवार का भरण-पोषण करने के लिए कारोबार शुरू कर दिया है।

जो इस समय सादगी के साथ जीवन-यापन कर रहे हैं, लेकिन अपराध की दुनिया छोड़ चुके अपराधियों के नाम पुलिस की टॉपटेन सूची में शामिल हैं। यहीं कारण है कि कोई भी क्राइम न करने के बाद भी उनको पुलिस की कार्रवाई से दो-चार होना पड़ता है। ऐसे में सीएम योगी के आदेश के बाद एसपी ने टॉपटेन सूची को अपडेट करने के निर्देश दिए हैं।

सक्रिय अपराधी सूची में होंगे शामिल
जिले में कई अपराधी ऐसे हैं, जो अपराध करने के बाद भी पुलिस की नजर से बचे हुए हैं। सक्रिय अपराधी दुष्कर्म, लूट, छिनैती, चोरी, मादक पदार्थ की तस्करी कर रहे हैं, लेकिन पुलिस उन तक पहुंचने में कामयाब नहीं हो पाती है। ऐसे में एसपी एस. आनंद ने आदेश दिए हैं कि, वर्तमान समय में घटनाओं में शामिल रहने वाले अपराधियों की सूची बनाई जाए और उन अपराधियों को टॉपटेन सूची में शामिल कर, पिछले 3 साल में जिसने अपराध न किया हो, उनको सूची में शामिल न किया जाए।

टॉपटेन सूची में शामिल ज्यादातर अपराधी जेल में
एसपी एस. आनंद ने बताया, वर्तमान समय में जो अपराधी लगातार अपराध कर रहे हैं, उनको टॉपटेन सूची में शामिल करने के आदेश दिए हैं। साथ ही उनकी जल्द गिरफ्तारी कर जेल भेजने के निर्देश दिए हैं। टॉपटेन सूची में शामिल अपराधी ज्यादातर जेल में बंद हैं। जो अपराधी जेल से जमानत पर बाहर हैं, उनके ऊपर पुलिस नजर बनाए हुए हैं।

खबरें और भी हैं...