शाहजहांपुर में सपा प्रत्याशी राजेश यादव ने दर्ज कराई FIR:बोले- मेरी छवि को धूमिल किया जा रहा, गुजरात से आई कुछ महिलाएं बिगाड़ रहीं माहौल

शाहजहांपुर5 महीने पहले

शाहजहांपुर में कटरा विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी का वीडियो वायरल होने के बाद उनके वकील ने वीडियो को वायरल करने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। उसके बाद प्रत्याशी ने दैनिक भास्कर से खास बातचीत में कहा कि मेरा वीडियो एडिट करके वायरल किया गया है। जबकि क्षेत्रीय विधायक के पिता इस तरह के अपशब्दों का इस्तेमाल करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि गुजरात से कुछ महिलाएं आकर धार्मिक उन्माद फैलाने वाले वीडियो दिखाकर माहौल को खराब करने की कोशिश कर रही हैं। आरोप लगने के बाद स्थानीय विधायक ने कहा कि ये चुनाव है, इसमें किसी के पिता पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहिए।

कटरा सीट से सपा प्रत्याशी राजेश यादव के वकील ने दर्ज कराई एफआईआर

कटरा विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी व पूर्व विधायक राजेश यादव का वीडियो वायरल होने के बाद उनके वकील अवधेश कुमार मिश्र ने थाना सदर बाजार में वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की ।पुलिस ने तहरीर के आधार पर छह नामजद और कई अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। उसके बाद सपा प्रत्याशी राजेश यादव ने दैनिक भास्कर से खास बातचीत में कहा कि, एक वीडियो वायरल किया गया है। उस वीडियो को एडिट करने के बाद वायरल किया गया है। उसमे जो कुछ बोला जा रहा है, ऐसा वहां के क्षेत्रिय विधायक के पिता करते हैं। उन्होंने कहा कि हम राजनीतिक परिवार से आते हैं। इस तरह के शब्दों का बिल्कुल इस्तेमाल नहीं करते, कभी भी ऐसे शब्द नहीं बोले हैं। जिससे किसी के सम्मान को ठेस पहुंचे। उन्होंने कहा कि वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

गुजरात से आई कुछ महिलाओं पर माहौल बिगाड़ने का भी आरोप लगाया

आगे उन्होंने कहा कि क्षेत्र में गुजरात से कुछ महिलाएं आई हैं, उन महिलाओं का काम है कि मोबाइल में धार्मिक उन्माद फैलाने वाले वीडियो को घर घर जाकर दिखाना और उसके बाद माहौल को बिगड़ना। जिसकी उन्होंने पुलिस से शिकायत भी की है।

स्थानीय विधायक ने कहा कि चुनाव में पिता पर टिप्पणी करना ठीक नहीं

स्थानीय विधायक ने कहा कि ये चुनाव है, इसमें किसी के पिता पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहिए। क्योंकि न तो उनके पिता ने हमे चुनाव लड़ाया और न मेरे पिता ने उनका चुनाव लड़ाया। इसलिए पिता पर टिप्पणी करना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि पार्टी की तरफ से अलग अलग प्रदेश स्तर से पदाधिकारी आए हैं। जो सभी राजनीतिक पार्टियों से आते हैं। धार्मिक उन्माद फैलाने वाले आरोप बिल्कुल गलत हैं।

खबरें और भी हैं...