पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जावेद अख्तर को सरकार भेज दे अफगानिस्तान:शाहजहांपुर में अख्तर की बयानबाजी का विरोध, विश्व हिंदू परिषद ने कहा-सरकार करे कार्रवाई, नहीं तो हम खुद निपट लेंगे

शाहजहांपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विहिप ने जलाया जावेद अख्तर का पुतला। - Dainik Bhaskar
विहिप ने जलाया जावेद अख्तर का पुतला।

शाहजहांपुर में आरएसएस की तुलना तालिबान से करना बॉलीवुड के फेमस गीतकार और स्क्रिप्ट राइटर जावेद अख्तर को भारी पड़ गया। जावेद अख्तर की बयानबाजी के खिलाफ विश्व हिंदू परिषद ने कलेक्ट्रेट गेट के सामने उनका पुतला जलाया। प्रर्दशनकारियों ने मांग की है कि उनको जहाज में बैठाकर अफगानिस्तान भेज देना चाहिए। विश्व हिंदू परिषद ने जावेद अख्तर को देश का गद्दार बताया है। पुतला फूंकने की सूचना मिलने पर पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया है।

जिस देश में रहते हैं, उसी के खिलाफ जहर उगलते हैं

विहिप के जिला मंत्री राजेश अवस्थी ने कहा कि लोग जिस देश का खाते हैं, जहां रहते हैं, उसी के खिलाफ जहर उगलते हैं। जावेद अख्तर को अगर अफगानिस्तान इतना ही अच्छा लगता है, तो उनको सरकार हवाई जहाज में बैठाकर अफगानिस्तान भेज दे।

ऐसे लोगों को हिंदुस्तान में रहने का हक नहीं...

राजेश अवस्थी का कहना है कि जावेद अख्तर को हिंदुस्तान में रहने का कोई हक नहीं है। उनके ऊपर केंद्र सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर सरकार ने जावेद अख्तर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की, तो उनसे विश्व हिंदू परिषद खुद निपटेगा। जिसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

दोनों में नहीं है कोई अंतर

बॉलीवुड के फेमस गीतकार और स्क्रिप्ट राइटर ने एक इंटरव्यू में कहा था कि आरएसएस का समर्थन करने वालों की मानसिकता भी तालिबानियों जैसी ही है। आरएसएस का समर्थन करने वालों को आत्मपरीक्षण करना चाहिए। उन्होंने कहा था कि तालिबान और विश्व हिंदू परिषद में क्या अंतर है? उनकी जमीन मजबूत हो रही है और वे अपने टारगेट की तरफ बढ़ रहे हैं। दोनों की मानसिकता एक ही है।

खबरें और भी हैं...