गर्भवती महिला और नवजात की इलाज के दौरान मौत:शाहजहांपुर के पुवायां में मायके के लोगों ने लगाए गंभीर आरोप, कहा-इलाज में बरती गई लापरवाही

पुवायाँ, 'शाहजहांपुर4 दिन पहले

शाहजहांपुर के पुवायां थाना क्षेत्र के गांव गंगाई में एक गर्भवती महिला एवं उसके नवजात बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई। विवाहिता के मायके वालों ने ससुराल वालों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दी है। वहीं महिला के मायके वालों ने ससुराल वालों पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मामला पुवायां थाना क्षेत्र के गांव गंगाई का है । गंगाई के रहने वाले रूपचंद्र की पत्नी कौशल्या देवी गर्भवती थी, कौशल्या एवं उसकी नवजात पुत्री के इलाज के दौरान मौत हो गई । मृतक कौशल्या देवी के परिजन पुवायां कोतवाली पहुंचे और तहरीर देकर बताया कि उन्होंने अपनी बेटी कौशल्या देवी की शादी 1 साल पहले गंगाई के रहने वाले रूपचंद के साथ की थी । उनकी पुत्री गर्भवती थी और काफी कमजोर थी। मायके वालों ने अपनी गर्भवती पुत्री कौशल्या देवी को इलाज के लिए बरेली के राममूर्ति अस्पताल में भर्ती कराया था। उनके दामाद रूपचंद को मायके वाले राममूर्ति अस्पताल में कौशल्या की देखभाल के लिए छोड़कर घर 50 हजार रुपये इलाज के लिए लेने आए थे । उनके दामाद पुत्री कौशल्या एवं नवजात बच्ची को शाहजहांपुर ले आए और एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया । जब महिला के परिजन राममूर्ति अस्पताल पहुंचे तब उन्हें पता चला कि उनके पति महिला और बच्ची की छुट्टी करा कर चले गए हैं । शाहजहांपुर के निजी अस्पताल में उनकी पुत्री कौशल्या और उसकी नवजात बच्ची की इलाज के दौरान मौत हो गई । आज सुबह मायके वालों को उनकी पुत्री कौशल्या और नवजात बच्ची की मौत की खबर उनकी पुत्री के ससुराल के गांव वालों से मिली, तो सूचना पर मृतक महिला के परिवार वाले पहुंचे और कोतवाली पहुंचकर ससुराल वालों के खिलाफ इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है ।

खबरें और भी हैं...