कैराना में अवैध बस स्टैंडों को हटाने का निर्देश:सीएम के आदेश के पहले दिन प्रशासन की कार्यवाही बेअसर, केवल एक दो अवैध बस स्टैंड पर हुई जांच

कैराना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सड़क किनारे खड़े वाहनों को हटवाने व अवैध पार्किंग पर कार्रवाई के लिए सीएम के आदेश के बाद भी प्रशासन प्रभावी कार्यवाही नहीं कर सका। केवल एक दो अवैध बस स्टैंड पर पहुंचकर प्रशासन द्वारा वाहनों को हटाने की चेतावनी दी गई हैं।

बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्यवाही व सड़क सुरक्षा को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी। इस दौरान सीएम योगी ने सड़क किनारे खड़े वाहनों को हटवाने, बाजारों से अतिक्रमण हटवाने व सड़कों पर ओवर लोडिंग वाहनों पर रोकथाम लगाने तथा अवैध पार्किंग के खिलाफ प्रभावी कार्यवाही करने के स्थानीय प्रशासन को आदेश दिए थे। साथ ही अवैध बस स्टैंड चलाने वाले पेशेवर ठेकेदारों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत एफ आई आर दर्ज कर संपत्ति जब्तीकरण की कार्यवाही के आदेश दिए गए हैं। कार्यवाही की रिपोर्ट 48 घंटे में शासन को देने के लिए आदेश हैं।

एसडीएम ने स्टैंड के आसापास की दुकानों को जांचा

वही सीएम के आदेश के बाद गुरुवार को एसडीएम संदीप कुमार पुलिस क्षेत्राधिकारी बिजेंद्र सिंह भड़ाना व पालिका अधिशासी अधिकारी मणि अरोरा पालिका बाजार के सामने मौजूद पालिका की जमीन पर पिछले 25-30 सालों से चले आ रहें अवैध बस स्टैंड पर पहुंचे। यहां पर पुलिस प्रशासन के पहुंचने से पहले ही बसों से पैसे लेकर चलाने वाले एजेंट फरार हो गए। इसके बाद बस स्टैंड केंद्र पालिका की दुकानों की पुलिस प्रशासन ने जांच की और दुकानदारों द्वारा पालिका से किराए पर ली गई दुकान का रिकार्ड चेक किया। बाद में पुलिस प्रशासन का काफिला गंगोह बस स्टैंड पर पहुंचा। यहां पर भी बसों से गुंडा टैक्स वसूलने वाले ठेकेदार फरार हो गए।

अवैध बस स्टैंड व अवैध पार्किंग संचालकों को चेतावनी दी गई

बस स्टैंड पर खड़े एक विक्की ने बता कि एजेंट बस संचालकों से प्रति बस 20 रुपये लेते हैं। कुछ बस ड्राइवरों को एसडीएम ने सड़क किनारे से बसें हटाने की चेतावनी दी। साथ ही बस स्टैंड की बराबर में अवैध रूप से पार्किंग बनाकर चल रहें एक टैक्सी स्टैंड से भी ड्राइवर अपनी गाड़ियां लेकर फरार हो गए। वहीं सीएम के आदेश के पहले दिन ही पुलिस प्रशासन की कार्यवाही बेअसर नजर आई। एसडीएम संदीप कुमार ने बताया कि फिलहाल अवैध बस स्टैंड व अवैध पार्किंग संचालकों को चेतावनी दी गई।

खबरें और भी हैं...