गैंगस्टर को एनकाउंटर का डर:शामली में 4 गैंगस्टर ने किया सरेंडर, एनकाउंटर का सता रहा था डर, हत्या और हत्या के प्रयास के मामले में चल रहे थे वांछित

शामली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आत्मसमर्पण के बाद चारों को हिरासत में लेकर आगे की कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है।  - Dainik Bhaskar
पुलिस ने आत्मसमर्पण के बाद चारों को हिरासत में लेकर आगे की कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। 

शामली में चार गैंगस्टर ने पुलिस एनकाउंटर के डर से सरेंडर कर दिया है। चारों आरोपी गैंगस्टर के मामले में वांछित चल रहे थे। पुलिस ने आत्मसमर्पण के बाद चारों को हिरासत में लेकर आगे की कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है।

कैराना कोतवाली क्षेत्र के कस्बा कैराना में बवाल मचाने, हत्या का प्रयास, आम जनमानस को परेशान करने के लिए क्षेत्रीय विधायक नाहिद हसन ओर उनकी मां व पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित करीब 40 लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था, जिसमें कार्रवाई पुलिस आरोपियों पर गैंगस्टर के तहत कानूनी कार्रवाई शुरू की थी। कार्रवाई से बचने के लिए करीब डेढ़ दर्जन ने खुद थाने में पहुंचकर आत्म समर्पण कर दिया है। शनिवार को 4 और ने भी सरेंडर कर दिया।

सरेंडर करने वाले आरोपी अहसान पुत्र शफी, गुफरान पुत्र जम्मल, इरफान पुत्र जमील, जुल्फान पुत्र जमील ग्राम रामड़ा थाना कैराना जनपद शामली के रहने वाले हैं।

इस मामले में कैराना विधायक नाहिद हसन, पूर्व सांसद तबस्सुम हसन भी आरोपी हैं। इस मामले में थानाध्यक्ष का कहना है कि ये सभी वांछित चल रहे थे जिनके खिलाफ पुलिस गैंगस्टर की कार्रवाई कर रही थी। उसी से बचने के लिए चारों आरोपियों ने खुद कोतवाली में पहुंचकर सरेंडर किया।