पहले हत्या की, फिर अपहरण की सूचना परिवार को दी:शामली में तीन दोस्तों में शराब पीते समय हुआ था विवाद, परिवार को भटकाने के लिए रची झूठी कहानी

शामली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शुरू की जांच। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शुरू की जांच।

शामली में एक युवक का अपहरण हो गया था, जिसकी फिरौती ना मिलने पर दबंगों ने युवक की हत्या कर दी। पुलिस ने गन्ने के खेत से शव बरामद किया है। बदमाशों ने परिजनों से 5 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। फिरौती ना देने पर देवेंद्र की हत्या कर दी गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

दूसरा आरोपी है फरार

गांव के ही युवकों पर अपहरण के बाद हत्या का आरोप लगा है। जिनके नाम ललित और सन्नी है। जिनमें से मुख्य आरोपी ललित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दूसरा बदमाश सन्नी फरार है। पूरा मामला गढ़ीपुख्ता थाना क्षेत्र के पूर्वी यमुना नहर के पास का है।

शराब पीने के दौरान हुआ था झगड़ा

देवेंद्र, ललित और सन्नी एक साथ बैठकर शराब पी रहे थे। उसी दौरान शराब के नशे में तीनों का झगड़ा हो गया। ललित और सन्नी ने मिलकर देवेन्द्र की गला दबाकर हत्या कर दी। बाद में शव को गन्ने के खेत मे फेंक दिया। बाद में दोनों आरोपियों ने परिजनों को फोन कर देवेन्द्र के अपहरण की खबर दी। साथ ही परिजनों से 5 लाख रुपए फिरौती मांगी।

पुलिस पूछताछ में हुआ खुलासा

आरोपी दोनों युवक पड़ोस के ही रहने वाले हैं। परिजनों को शक था कि इन्हीं दोनों ने देवेन्द्र का अपहरण किया है। जब पुलिस ने ललित से गहनता से पूछताछ की तो मामले का खुलासा हुआ। आरोपी ललित की निशानदेही पर शव को बरामद किया गया। पुलिस ने फरार आरोपी सन्नी की तलाश शुरू कर दी है।

हत्या करने के बाद किया था फोन

देवेन्द्र गढ़ीपुख्ता थाना क्षेत्र के गांव भैंसवाल का निवासी है। युवक कल डॉक्टर के यहां दवाई लेने के लिए आया था। जिसके बाद वो वापस नहीं लौटा था। रात करीब 8 बजे बदमाशों का फोन आया। उन लोगों ने अपहरण की सूचना परिजनों को दी। बल्कि दोनों बदमाश पहले ही देवेंद्र की हत्या कर चुके थे।

खबरें और भी हैं...