शामली में डिलीवरी के दौरान महिला की मौत:ऑपरेशन करते वक्त बिगड़ी हालत, दूसरी ब्रांच में किया गया रेफर; वहां डॉक्टरों ने इलाज करने से किया मना

शामली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शामली में महिला की मौत के बाद परिजनों व पड़ोसियों ने अस्पताल के सामने किया हंगामा। - Dainik Bhaskar
शामली में महिला की मौत के बाद परिजनों व पड़ोसियों ने अस्पताल के सामने किया हंगामा।

शामली में एक प्रसूता की ऑपरेशन के दौरान हालत बिगड़ गई। इसके बाद डॉक्टर ने उसको अस्पताल की दूसरी ब्रांच ले जाने के लिए रेफर कर दिया। जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद उसका इलाज करने से इंकार कर दिया। जिसके चलते महिला की मौत हो गई। परिजनों ने देखा कि अस्पताल के बाहर न तो रजिस्ट्रेशन नंबर लिखा है। न ही अंदर किसी डॉक्टर की क्या डिग्री है ये कहीं लिखा है। नाराज घरवालों ने अस्पताल के बाहर जमकर हंगामा किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को शांत करवाकर घर भेज दिया। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा कि मामले की जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी।

अवैध अस्पताल में घरवालों ने किया था भर्ती
जिले के कैराना कोतवाली के कस्बा कैराना के पानीपत खटीमा मार्ग पर बने अपेक्स हॉस्पिटल का यह मामला है। जहां मंगलवार की शाम 6 बजे मोहल्ला दरबार खुर्द तीतरवाड़ा चुंगी निवासी विश्राम सिंह ने अपनी बेटी प्रीति(25) को डिलीवरी के लिए भर्ती करवाया था। वहां डॉक्टरों ने पहले कहा कि डिलीवरी नार्मल होनी है। बाद में कहा कि बड़ा ऑपरेशन करना पड़ेगा।

डिलीवरी के बाद घरवालों को नहीं दिया गया मिलने
परिजनों का आरोप है कि ऑपरेशन के बाद उन लोगों को प्रीति से मिलने नहीं दिया गया। सुबह करीब 3 बजे उसकी हालत खराब होने लगी। जिसके बाद हॉस्पिटल वालों ने उसे पानीपत में मौजूद अपनी दूसरी ब्रांच अपैक्स हॉस्पिटल में रेफर कर दिया। वहां डॉक्टरों ने जांच करने पर पीड़िता का इलाज करने से मना कर दिया। जिसके बाद उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलने पर घरवालों ने अस्पताल के सामने हंगामा करना शुरू कर दिया। मामला बढ़ता देख अस्पताल का स्टाफ और डॉक्टर मौके से फरार हो गए।

अवैध रूप से संचालित हो रहा था अस्पताल
मृतका के घरवालों ने देखा कि हॉस्पिटल के बाहर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं लिखा है। न ही डॉक्टरों के कमरों के बाहर उनका नाम और उनकी डिग्री लिखी है। इससे उन्हें पता चला कि अस्पताल फर्जी है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस मामले की जांच करा कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...