शामली में गौशाला में गौवंशों की मौत का मामला:डॉक्टर ने संचालक पर लगाया लापरवाही का आरोप, जिलाधिकारी जसजीत कौर ने दिए जांच के आदेश

शामली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शामली में गौशाला में गौवंशों की मौत का मामला। - Dainik Bhaskar
शामली में गौशाला में गौवंशों की मौत का मामला।

शामली जिले में सरकारी गौशाला में करीब एक दर्जन गौवंशों की मौत पर जिलाधिकारी जसजीत कौर ने जांच के आदेश दिए हैं। जिलाधिकारी ने सीडीओ के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया है। जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं। रिपोर्ट आने पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।

करीब एक दर्जन गौवंशों की हुई थी मौत

बता दें कि आदर्श मंडी थाना क्षेत्र के नंगली जमालपुर गांव में बनी गौशाला में वर्तमान में 225 से अधिक गोवंश हैं। प्रत्येक गौवंश के लिए 900 रुपए के हिसाब से हर महीने 2 लाख 2 हजार 500 रुपए संचालक को सरकार की तरफ से दिए जा रहे हैं। दो दिन पहले करीब एक दर्जन गौवंश की मौत हो चुकी है। सरकार की तरफ से लाखों रुपए प्रतिमाह मिलने के बावजूद गौवंश के खान-पान पर संचालक द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

गौशाला संचालक द्वारा नहीं दिया जाता ध्यान

डॉ. सैय्यद हुसैन का कहना है कि उनकी टीम यहां रोजाना विजिट करती है। जो भी कमियां होती हैं, उसके बारे में गौशाला संचालक मोहिनी सिंह को लिखित में बताया जाता है। उन्होंने कहा कि बताई गई कमियों पर संचालक द्वारा अमल नहीं किया जाता है, जिससे इस तरह की घटनाएं होती हैं। उन्होंने कहा कि मरने वाले गौवंशों में एक को कैंसर था। दो छोटे-छोटे गौवंशों को टक्कर लगने के बाद उपचार सहीं नहीं मिला, जिससे उनकी मौत हो गई। वहीं गौशाला में गोवंशों की मौत के मामले में जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि सीडीओ के नेतृत्व में टीम बनाकर जांच के आदेश दिए गए हैं। रिपोर्ट आने पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...