11वीं के छात्रों ने तैयार किया म्यूजिक वीडियो:5 हजार लोग कर चुके हैं लाइक, शामली के युवा यूट्यूब में बिखेर रहे जलवा

ऊन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूट्यूब वर्तमान हुनर दिखाने का सबसे बेहतरीन मंच है। इसके आने के बाद से कहीं दर-कोनों में छुपा भी टैलैंट भी दुनिया के सामने आ रहा है। आइए आपको मिलाते हैं शामली की तहसील ऊन के ऐसे ही पाँच यंग यूट्यूबर्स से। जो इस वीडियो प्लेटफार्म पर अपना टैलेंट दिखाकर दुनिया भर में अपना लोहा मनवा रहे हैं।

ऊन के रहने वाले साहिल, मुशारिक, परवेज, उवेश और भावना ने यूट्यूब पर टीम एसजेड नाम से एक चैनल बनाया है। जिसमें वे म्यूजिक वीडियो बनाकर अपने टैलेंट का प्रदर्शन कर रहे हैं।यहां उन्हें लोग काफी पसंद कर रहे हैं। साहिल बताते हैं कि वे सभी जय सीता राम कालेज में ग्याहरवीं कक्षा में पढ़ते हैं। इससे एक साल पहले जब वे दसवीं के बोर्ड एग्ज़ाम देने जा रहे थे। उसी दौरान उनके दिमाग में यूट्यूब चैन बनाने की ख़्याल आया था। 10 वीं के एग्ज़ाम ख़त्म होने के बाद उन्होंने इसकी तैयारी शुरु की।

दोस्त के भाई ने की मदद, सैलरी से पैसे बचाकर वीडियो किया प्रोड्यूस
साहिल ने बताया कि दसवीं पास करने के बाद सभी दोस्तों यूट्यूब चैनल तो बना लिया था। लेकिन, वीडियो बनाने के पैसे नहीं थे। ऐसे में दोस्त मुशारिक के भाई गुड्डू आगे आए और उन्होंने अपनी सैलरी से पैसे बचाकर हमारे वीडियो को प्रोड्यूस किया। गुड्डू ने बताया कि उन्हें भी बचपन से एक्टिंग करने का बचपन से शौक था, लेकिन पारिवारिक हालत ठीक न होने कारण वह नौकरी करने लगे। कुछ दिन पहले जब भाई के दोस्तों के आइडिया के बारे में बताया तो मुझे अपना बचपन याद आ गया।

दिल्ली के एक इंस्टीट्यूट से प्रोडेक्शन का कोर्स करके आए वेडिंग फोटोग्राफर अभय भी वीडियो बनाने में कर रहे हैं मदद।
दिल्ली के एक इंस्टीट्यूट से प्रोडेक्शन का कोर्स करके आए वेडिंग फोटोग्राफर अभय भी वीडियो बनाने में कर रहे हैं मदद।

वेडिंग फोटोग्राफर से ली वीडियो रिकार्ड करने में मदद
साहिल ने बताया कि उन्होंने यूट्यूब वीडियो जितना आसान दिखता है उसे बनाना उतना ही कठिन होता है। उन्होंने बताया कि उनकी टीम के किसी भी सदस्य को इसका अनुभव नहीं था। उन्होंने वीडियो रिकार्ड तो कर लिया, लेकिन इसे एडिट करने में परेशानी हो रही थी। ऐसे में शहर वेडिंग फोटोग्राफर अभय आगे आए। उन्होंने वीडियो को ऑडिट करने और रिकार्ड करने के कई नए -नए तरीक़े बताए। इससे उनके वीडियो में और भी खूबसूरती आ गई।

एक वीडियो तैयार करने में 15 हजार आता है खर्च
साहिल बताते हैं कि एक वीडियो तैयार करने कई तरह चीजों की ज़रूरत पड़ती है। इसमें कास्ट्यूम, लोकेशन, शाट के दौरान उपयोग होने वाली चीजें वगैरा-वगैरा। उन्होंने बताया कि काफ़ी सामान तो वे लोग घर से ही अरेंज कर लेते हैं। लेकिन कुछ सामान को किराए पर लेना पड़ता है। जिसके लिए जिला मुख्यालय शामली भी जाना पड़ता है। यहाँ ऊन सामान लाना और उसे वापस शामली पहुँचाना सबसे ज़्यादा चुनौतीपूर्ण काम होता है। उन्होंने बताया कि सभी खर्चे मिलाकर एक वीडियो बनाने में क़रीब 15 हज़ार का खर्चा आता है।

यू ट्यूब चैनल टीम एसजेड में अब तक तीन हजार लोग कर चुके हैं सब्सक्राइब।
यू ट्यूब चैनल टीम एसजेड में अब तक तीन हजार लोग कर चुके हैं सब्सक्राइब।

अब तक दो वीडियो कर चुके हैं रिलीज
साहिल बताते हैं कि वे लोग अबतक दो वीडियो रिलीज़ कर चुके हैं। जिसमें एक पंजाबी सिंगल जस मानक का गाना बटरफ्लाई है। जिसे अबतक करीब पाँच हजार लोग लाइक कर चुक है। वहीं उन्होंने एक अपना व्लाग भी तैयार किया है। साहिल ने बताया कि उनका चैनल मानिटाइजेशन के लिए चला गया है। जल्द ही उन्हें यूट्यूब से की ओर से पैसे मिलने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...