इकौना में शुद्ध पेयजल को तरस रहे लोग:लाखों की कीमत से बनी पानी की टंकी हो गई शोपीस, क्षेत्रवासी नाराज़

इकौना10 दिन पहले

चिलचिलाती धूप और गर्मी ने जिस प्रकार से आम लोगों का जीना दुश्वार किया है ऐसे ही शुद्ध पेयजल पानी की भी किल्लत लोगों के सामने आ रही है। जहां पर गिलौला में लाखों की लागत से बनाई गई पानी टंकी अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है, तो वहीं आज तक किसी एक भी व्यक्ति को इस टंकी से लाभ नहीं हुआ जो सवालों के घेरे में आ रही है।

गिलौला विकास क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत गिलौला के कृष्णलली सरस्वती शिशु मंदिर के पास बनी हुई पानी टंकी जिसका निर्माण समाजवादी पार्टी के शासनकाल में सन 2012 में इसका लोकार्पण तत्कालीन विधायक हाजी मोहम्मद रमजान के द्वारा किया गया था जहां पर शुद्ध पेयजल की योजना को लागू करने के लिए आम जनमानस को पानी किल्लत की समस्या से निजात दिलाने के लिए सरकार का यह फैसला अच्छा था, लेकिन समय के चलते अधिकारियों और ठेकेदार की मिलीभगत से बनी हुई पानी टंकी के धन का बंदरबांट किया गया।

जिसका खामियाजा आज गिलौला के आम जनमानस को भुगतना पड़ रहा है जहां पर पानी टंकी के किनारे बनी बाउंड्री वाल टूट गई है और साथ ही साथ टंकी भी धराशाई होने के कगार पर आ चुकी है जहां पर आज तक इस पानी टंकी से कहीं भी किसी एक आदमी को भी पानी सप्लाई का लाभ नहीं मिला जिससे आम जनमानस में काफी आक्रोश ठंडी के मौसम में तो लोग पानी को नहीं याद करते हैं।

जैसे ही गर्मी का मौसम आता है आम जनमानस के साथ-साथ पशु-पक्षी भी पानी की तलाश में निकलते हैं ऐसे में लाखों की लागत से बनी हुई टंकी दिखाने के लिए बनी है जहां पर किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार का लाभ नहीं पहुंचाया गया जिससे साफ साबित होता है कि उस समय पानी टंकी निर्माण में बहुत बड़ा घोटाला नजर आता है जिसका खामियाजा आम जनमानस को भुगतना पड़ रहा है ऐसे में शुद्ध पेयजल की किल्लत गिलौला बाजार से लेकर गांव तक कहीं भी वाटर सप्लाई नहीं है।

खबरें और भी हैं...