श्रावस्ती समेत 12 जिलों में खुलेंगी एटीएस की नई शाखाएं:आतंकी गतिवधियों को रोकने के लिए 12 जिलों में स्थापित होंगी नई इकाईयां, 10 जिलों में हुआ जमीन का आवंटन

श्रावस्ती3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एटीएस की इन नई इकाईयों के गठन के लिए तैयारियां लगभग पूरी हो गई है। जो रूपरेखा बनाई गई है, उसके तहत हर इकाई में डेढ़ से दो दर्जन कमांडो की तैनाती की जाएगी। - Dainik Bhaskar
एटीएस की इन नई इकाईयों के गठन के लिए तैयारियां लगभग पूरी हो गई है। जो रूपरेखा बनाई गई है, उसके तहत हर इकाई में डेढ़ से दो दर्जन कमांडो की तैनाती की जाएगी।

श्रावस्ती समेत 12 जिलों में एटीएस की नई शाखाएं स्थापित की जाएंगी। 10 जिलों में जमीन का आवंटन भी हो गया है। दो जिलों में जमीन चिह्नित करने का काम चल रहा है। एटीएस की नई इकाईयों से आतंकी गतिविधियों में पर नियंत्रण किया जाएगा।

तैनात किए जाएंगे कमांडो
एटीएस की इन नई इकाईयों के गठन के लिए तैयारियां लगभग पूरी हो गई है। जो रूपरेखा बनाई गई है, उसके तहत हर इकाई में डेढ़ से दो दर्जन कमांडो की तैनाती की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एटीएस को और मजबूत करने का काम किया जा रहा है।

आधुनिक हथियारों से होंगी लैस
एटीएस की यह शाखाएं आधुनिक हथियारों से लैस होंगी। एटीएस को जल्द ही और अत्याधुनिक संसाधनों से लैस किया जाएगा। समुचित मानव संसाधन भी मुहैया कराया जाएगा।

यहां स्थापित होंगी नई इकाईयां

  • सोनभद्र
  • श्रावस्ती
  • मिर्जापुर
  • बहराइच
  • मेरठ
  • अलीगढ़
  • ग्रेटर नोएडा
  • आजमगढ़
  • कानपुर
  • सहारनपुर
  • वाराणसी
  • झांसी

सहारनपुर के देवबंद में एटीएस का कमांडो ट्रेनिंग सेंटर स्थापित किया जाएगा। इसके लिए संबंधित जिलों में भूमि आवंटित कर दी गई। वाराणसी और झांसी में एटीएस इकाई की स्थापना के लिए जल्द भूमि आवंटन के आसार हैं। चूंकि बहराइच और श्रावस्ती में भारत-नेपाल सीमा है, इसलिए एटीएस की नई फील्ड यूनिट काम कर रही है।