इटवा में संचारी रोग नियंत्रण को लेकर आयोजित हुआ प्रशिक्षण:महत्वपूर्ण बिंदुओं पर प्रशिक्षित की गई आंगनबाड़ी कार्यकत्री, क्षेत्र में सतर्क रहने के लिए आह्वान

इटवा (सिद्धार्थनगर)4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इटवा। संचारी रोग नियंत्रण अभियान को लेकर इटवा बाल विकास परियोजना कार्यालय पर सोमवार को प्रशिक्षण आयोजित किया गया। जिसमें ब्लाक क्षेत्र की आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को महत्वपूर्ण बिंदुओं पर प्रशिक्षित किया गया। सभी से आह्वान किया गया कि सतर्क रहें और अपने-अपने क्षेत्र में बुखार पीड़ितों पर नजर रखें। सभी लोगों को साफ-सफाई रखने के लिए प्रेरित करें। ताजा भोजन और शुद्ध पेयजल सेवन की जानकारी सभी को दें।

संबंधित की सूची तैयार करें आंगनबाड़ी
प्रशिक्षण में ब्लॉक समन्वयक रिजवाना अंसारी ने कहा कि सभी आंनगाड़ी कार्यकत्री अपने क्षेत्र में बुखार रोगियों की सूची बनाएं। इसके अलावा कुपोषित बच्चों, क्षय रोग पीड़ितों की सूची भी तैयार करें। संचारी रोग को देखते हुए ऐसे घरों को चिंहित करें। जहां मच्छरों का जनक होता है। वहां के लोगों से मिलें और गंदगी एकत्रित न होने के लिए सलाह दें। सभी से मच्छरदानी का प्रयोग, स्वच्छ पानी का सेवन, शौचालय का प्रयोग आदि बिंदुओं पर जागरूक करें।

प्रशिक्षण को लेकर सभी दिखाएं गंभीरता
बाल विकास परियोजना अधिकारी मंजूलता गौतम ने कहा कि प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है, इसलिए सभी लोग इसमें गंभीरता दिखाएं। जो भी बिंदु दिए गए हैं, धरातल पर काम किया जाए। सिर्फ कागजों तक कार्य सीमित न रहें। इस कार्यक्रम में शिथिलता क्षम्य नहीं है। संचारी रोग अभियात के अंतर्गत अपने केंद्र व गांव में घर-घर जाकर ग्रामीणों को संचारी रोग के संबंध में जागरूक करें। इस कार्यक्रम में आप सभी की भूमिका अहम है, जिसका निर्वाहन निष्पक्षता से करें।

महिलाएं रही उपस्थिति।
महिलाएं रही उपस्थिति।

लापरवाही बरतने पर फैल सकता है संचारी रोग
प्रशिक्षण में बीसीपीएम शिव शंकर व बीओसी जया श्रीवास्तव ने कहा कि संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम में विभिन्न विभागों को जिम्मेदारी दी गई है, इसमें एक विभाग आपसे संबंधित है। इसलिए सभी आंगनबाड़ी अपने दायित्वों का निर्वाहन ईमानदारी के साथ करें, क्योंकि थोड़ी लापरवाही बरतने संचारी रोग को फैलने का अवसर मिल जाएगी।ॉ

ये लोग रहे शामिल
प्रशिक्षण में मुख्य सेविका स्नेहलता, सन्तोष कुमारी, शीला त्रिपाठी, कुसुमलता, रम्भा मल्ल सहित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों में नन्दनी सिंह, चिन्ता शुक्ला, गनेश्वरी, रीमा पाठक, सुनीता गुप्ता, गीता श्रीवास्तव, मीना देवी आदि शामिल रहीं।

खबरें और भी हैं...