इटवा में हल्की बारिश के बाद सड़क पर जलभराव:ग्रामीणों ने की एसडीएम से शिकायत, बोले-नाला निर्माण को शासन को भेजा है प्रस्ताव

इटवा, सिद्धार्थनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इटवा में हल्की बारिश के बाद सड़क पर  हुआ जलभराव। एसडीएम ने उठाई समास्या के समाधान की मांग। - Dainik Bhaskar
इटवा में हल्की बारिश के बाद सड़क पर हुआ जलभराव। एसडीएम ने उठाई समास्या के समाधान की मांग।

इटवा में मंगलवार को हल्की बारिश से सड़क पर जलभराव हो गया। इससे नाराज व्यापारी एसडीएम अभिषेक पाठक को लेकर मौके पर पहुंचे और समस्याओं से अवगत कराया। उन्होंने संबंधित समस्या का समाधान कराने के लिए आश्वासन दिया। इसके बाद व्यापारी शांत हुए। कहा कि समस्या के स्थाई समाधान के लिए प्रस्ताव बन रहे हैं। वैकल्पिक व्यवस्था भी बनाई जा रही है।

बिस्कोहर व बढ़नी मार्ग पर जल निकासी की समस्या के चलते जल जमाव की स्थिति बन जाती है। व्यापारियों का कहना है कि अभी ये हालत है तो जब बरसात क्या होगा। व्यापारियों के साथ व्यापार मंडल के अध्यक्ष शिव कुमार वर्मा एसडीएम अभिषेक पाठक से मिले और मौके पर लाकर समस्याओं से अवगत कराया। वर्मा ने कहा कि प्रमुख स्थानों पर नाली न होने के कारण जल जमाव की दिक्कतें पैदा हो रही हैं। जो दुकानें व घर नीचे हैं, वहां पानी घुस जा रहा है। कुछ विद्युत पोल ऐसे हैं जो नीचे से खराब हो चुके हैं और वह दुर्घटना की वजह बन सकते हैं।

इटवा में व्यापारियों की शिकायत एसडीएम ने गांव पहुंचकर समस्याओं को देखा।
इटवा में व्यापारियों की शिकायत एसडीएम ने गांव पहुंचकर समस्याओं को देखा।

इंटरलाकिंग में अनियमितता बरतने का आरोप

व्यापार मंडल अध्यक्ष ने इटवा नगर मुख्यालय पर पटरी पर हो रहे इंटरलाकिंग कार्य को दिखाया। कहा कि कार्य में अनियमितता बरती जा रही है। इससे कई जगहों पर ईंटें धंस गई हैं। जरूरत से ज्यादा खुदाई करने के कारण बारिश में वहां पानी भर गया है। इससे व्यापारियों व राहगीरों को परेशानियां उठानी पड़ रहा है। इस दौरान अब्दुल मोईद, इंद्रसेन सोनी, अनिल कुमार और भुर्रे आदि मौजूद रहे।

रखें धैर्य, समस्या का होगा समाधान

एसडीएम अभिषेक पाठक ने कहा कि थोड़ी धैर्य रखें। सारी समस्याओं का निदान होगा। प्रमुख मार्गों पर सड़क किनारे नाले का प्रस्ताव भेजा गया है। जैसे स्वीकृति मिलती है, कार्य प्रारंभ हो जाएगा। अन्य समस्याओं के समाधान के लिए नगर प्रशासन को निर्देशित किया गया है।

खबरें और भी हैं...