सिद्धार्थनगर में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण अधूरा:भुगतान हो चुका है पूरा, बीडीओ बोले- ग्राम प्रधान और सचिव से मांगा जाएगा जवाब

सिद्धार्थनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिद्धार्थनगर के भनवापुर ब्लॉक के सभी 111 ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालय बनना था। जिसमें से अब तक 65 ग्राम पंचायतों ने ही अपने यहां यह कार्य पूरा किया है। बाकी का काम अधूरा है। निर्माण में मानक की धज्जियां उड़ाई गई। जिसके चलते कमसार में निर्माण बारिश होते ही ध्वस्त हो चुका है।

सामुदायिक शौचालय के लिए चार लाख रुपये चार सीट वाले सामुदायिक शौचालय निर्माण के लिए अवमुक्त हुआ। साफ सफाई और रखरखाव के लिए भी सरकार ने व्यवस्था की। समूहों से अनुबंध किए गए हैं। लेकिन अफसोस है किसी भी जगह संचालन की जिम्मेदारी समूहों के हाथ में नहीं दी गई।

शौचालय तो बना लेकिन इसके प्रति सोच नहीं बदली, यही कारण है कि यहां ताला लटका रहता है।
शौचालय तो बना लेकिन इसके प्रति सोच नहीं बदली, यही कारण है कि यहां ताला लटका रहता है।

सब जगह लगे मिले ताले
अधिकतर शौचालय में ताले लगे हैं, बल्कि शौचालय के सामने लगा हैंडपंप भी खराब पड़ा है। देवरिया चमन, सिरसिया और बुढऊ के शौचालय, प्लास्टर, रंगाई सब अधूरा है। गांव के अक्षय कुमार, राकेश और विकास ने बताया कि जहां तक हमें जानकारी है अभी तक शौचालय के अंदर सीट भी नहीं बैठाई गई है। ऐसी ही स्थिति अन्य शौचालयों की भी है। बीडीओ भनवापुर धनंजय सिंह ने कहा जांच चल रही है। जहां शौचालय अपूर्ण हैं वहां के प्रधान व सचिव से जवाब मांगा जाएगा।

खबरें और भी हैं...