लहरपुर में बाबा जयगुरुदेव का सत्संग:मांस मदिरा का सेवन नहीं करने का किया आह्वान

लहरपुर, सीतापुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लहरपुर सीतापुर क्षेत्र के ग्राम तोपखाना में, मोल्हे राम के आवास पर बाबा जयगुरुदेव सत्संग संगत का किया गया आयोजन। बाबा जयगुरुदेव संगत में बाबाजी के अनुयायियों ने भारी संख्या में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर बाबाजी के अनुयायियों को संबोधित करते हुए डॉक्टर सुशील गुप्ता ने कहा कि गुरुजी के उपदेशों का पालन करें और उनका प्रचार प्रसार करें।

इस मौके पर इन्होंने गुरु जी का संदेश, मांस मदिरा का सेवन न करें शाकाहारी जीवन का पालन करने की सभी से अपील की, उन्होंने कहा कि निर्मल मन जन सो मोहि पावा। मोहि कपट छल छिद्र न भावा, अर्थात जो मनुष्य निर्मल मन का होता है वही मुझे पाता है मुझे कपट छल छिद्ध नहीं सुहाते। इसलिए निर्मल मन से प्रभु की आराधना करें, क्योंकि प्रभु को भी छल कपट पसंद नहीं है। सत्संग कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा कि मानव शरीर अत्यंत दुर्लभ है जिसको पाने के लिए देवी देवता भी तरसते हैं इंसान का जन्म भोग विलास के लिए नहीं बल्कि नेक कर्म करने और ईश्वर की आराधना करने के लिए बना है, उन्होंने कहा कि मानव जीवन पाकर अच्छे कर्म करें क्योंकि कर्मों का फल इंसान को अवश्य भोगना पड़ता है।

इस अवसर पर आयोजित सत्संग में, उन्होंने सभी से मांस मदिरा का सेवन न करने की सीख देते हुए कहा कि, मांस मदिरा का सेवन कर अपने शरीर को दूषित न करें बल्कि सात्विक भोजन कर प्रभु की आराधना करें, उन्होंने उपस्थित लोगों को दया करुणा और प्रेम का संदेश दिया।

खबरें और भी हैं...