सीतापुर में सपा की मासिक बैठक में भाजपा पर हमला:सपा विधायक बोले- सत्ता के नशे में चूर है भाजपा सरकार,महंगाई बिगाड़ रही आम आदमी का बजट

सीतापुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीतापुर में मासिक बैठक के दौरान कार्यालय पर मौजूद सपा नेता - Dainik Bhaskar
सीतापुर में मासिक बैठक के दौरान कार्यालय पर मौजूद सपा नेता

सीतापुर में आज समाजवादी पार्टी की मासिक बैठक पार्टी के जिला मुख्यालय सीतापुर मे जिलाध्यक्ष श्री क्षत्रपाल सिंह यादव की अध्यक्षता मे संपन्न हुयी। बैठक मे जिलाध्यक्ष के द्वारा विधानसभावार संगठन की समीक्षा की गयी। इसी क्रम मे प्रकोष्ठों व ब्लॉक अध्यक्षों की समीक्षा तथा जिले के समाजवादी पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न पर चर्चा करने के उपरांत आगामी चुनाव नगर पालिका व नगर पंचायत चुनाव के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गयी। इस दौरान जिलाध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में समाजवादी पार्टी ने जो काम किए थे भाजपा ने सिर्फ उन योजनाओं के नाम बदलना ही सीखा है। उत्तर प्रदेश विकास के क्षेत्र में पीछे चला गया हैं।

भाजपा सरकार में बढ़ा भ्रस्टाचार- जिलाध्यक्ष

जिलाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार कई रूप में जनता को दिख रहा है। पुलिस और तहसील के भ्रष्टाचार से आम जनमानस त्रस्त है और कोरोना काल से उपजे आर्थिक संकट की मार से जनता की कमर टूट गई है। डीजल-पेट्रोल के दाम बेलगाम है। बिजली की समस्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है और रसोई गैस की बढ़ी कीमतों ने लोगों का बजट खराब कर दिया है। इस दौरान विधायक अनिल ने कहा है कि भीषण गर्मी के बीच अघोषित बिजली कटौती से प्रदेश की जनता झुलस रही है। पूर्वांचल से लेकर पश्चिमी यूपी तक लोग त्राहि-त्राहि कर रहे हैं। गर्मी बढ़ने के साथ बिजली संकट गहराता जा रहा है। खुद भाजपा के विधायकों और राज्यमंत्री तक ने इस सम्बंध में ऊर्जा मंत्री और एम.डी. पावर कारपोरेशन को पत्र लिखे हैं।

सत्ता की खुमारी में भाजपा- सपा विधायक

बैठक को सम्बोधित करते हुए विधायक ने कहा कि प्रदेश में हर तरफ हाहाकार मचा है पर भाजपा की डबल इंजन सरकार सत्ता की खुमारी में है। बिजली उत्पादन के क्षेत्र में पिछले पांच साल भाजपा ने कुछ नहीं किया क्योंकि अब कई बिजली उत्पादन इकाइयां ठप है। बिजली की मांग और उपलब्धता में भारी अंतर के चलते गांव, कस्बों और तहसील मुख्यालयों में अंधाधुंध कटौती हो रही है। उन्होंने कहा कि खुद राजधानी लखनऊ में भी बिजली के झटके महसूस होने लगे हैं। रोस्टर केवल कहने-सुनने के लिए है। उन्होंने कहा कि जनता को बरगलाने के लिए चुनाव में भाजपा ने भी झूठे वादे कर लिए। लेकिन चुनाव खत्म होते ही भाजपा का असली चेहरा सामने आ गया। इस अवसर पर विधायक अनिल वर्मा,पूर्व विधायक अनूप गुप्ता,पूर्व विधायक राकेश राठौर,विजय वर्मा,कौशलेन्द्र सिंह,सुहैल अहमद,कय्यूम कुरैशी,चन्द्रशेखर यादव,महेंद्र यादव,आदि लोग मौजूद रहे |

खबरें और भी हैं...