प्रिंसिपल ने डांटा तो छात्र ने गोलियां दागीं...VIDEO:3 गोलियां मारीं, चौथी लोड कर रहा था, तभी टीचर्स पहुंच गए; तमंचा बैग में रख कर लाया था

सीतापुर2 महीने पहले

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में शनिवार को 12वीं के छात्र ने स्कूल में प्रिंसिपल को गोली मार दी। छात्र ने तीन गोलियां मारीं। वह चौथी गोली तमंचे में लोड कर रहा था, तभी टीचर्स और छात्र आ गए। इस बीच मौका मिलते ही आरोपी मौके से भाग गया।

प्रिंसिपल की हालत गंभीर है। उन्हें लखनऊ रेफर किया गया है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को स्कूल में मारपीट करने पर आरोपी छात्र को प्रिंसिपल ने डांट दिया था। इसी बात से वह नाराज था।

प्रिंसिपल के कमरे में गया, नमस्ते करके फायरिंग की

क्लास में ही तमंचे को पीछे जींस में रख लिया था।
क्लास में ही तमंचे को पीछे जींस में रख लिया था।

वारदात सदरपुर थाना क्षेत्र के आदर्श राम स्वरूप इंटर कॉलेज की है। घटना से जुड़ा CCTV फुटेज भी सामने आया है। शनिवार सुबह 8.30 बजे प्रिंसिपल राम स्वरूप वर्मा अपने रूम में बैठे हुए थे। वीडियो में दिख रहा है कि आरोपी छात्र गुरविंदर सिंह स्कूल पहुंचा, वह सीधे क्लास में गया, वहां पर बैग से तमंचा निकलकर कमर में पीछे छिपाता है। फिर एक छात्र के पानी बोतल से पानी पीता है। इसके बाद वह प्रिंसिपल के कमरे में जाता है। बताया जा रहा है कि पहले प्रिंसिपल को नमस्ते किया। इसके बाद गोली मारी दी। पहली गोली उनको छुते हुए निकल गई।

प्रिंसिपल ने बचने के लिए दौड़ लगा दी, लेकिन आरोपी छात्र ने पीछा किया।
प्रिंसिपल ने बचने के लिए दौड़ लगा दी, लेकिन आरोपी छात्र ने पीछा किया।

गोली चलते ही प्रिंसिपल ग्राउंड की तरफ भागे। इसके बाद छात्र ने उन्हें दौड़ाकर मैदान में दो गोली मारी। प्रिंसिपल ने हिम्मत दिखाते हुए गुरविंदर को पकड़ लिया। दोनों में हाथापाई हुई। तभी कॉलेज का स्टाफ भी मौके पर आ गया। गुरविंदर चौथी गोली लोड कर रहा था, लेकिन स्टाफ को देखकर गुरविंदर वहां से फरार हो गया। प्रिंसिपल को कमर में पीछे की ओर तीन गोलियां लगी हैं। उनकी हालत गंभीर है।"

प्रिंसिपल ने हिम्मत दिखाते हुए गुरविंदर को पकड़ लिया। दोनों में हाथापाई भी हुई।
प्रिंसिपल ने हिम्मत दिखाते हुए गुरविंदर को पकड़ लिया। दोनों में हाथापाई भी हुई।

खबर में पोल है। आगे बढ़ने से पहले इसमें हिस्सा ले सकते हैं।

आरोपी छात्र का परिवार घर बंद कर फरार
घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल प्रिंसिपल को CHC फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उनकी हालत नाजुक देखते हुए उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया है।

SO प्रदीप सिंह ने बताया कि आरोपी छात्र की तलाश की जा रही है। वारदात का पता चलते ही आरोपी छात्र का परिवार भी घर बंद करके फरार हो गया है। उनका पता किया जा रहा है। आरोपी परिवार का इकलौता बेटा है। पिता किसान हैं।

प्रिंसिपल को कमर में पीछे की ओर तीन गोलियां लगी हैं।
प्रिंसिपल को कमर में पीछे की ओर तीन गोलियां लगी हैं।

स्कूल में मारपीट करने पर प्रिंसिपल ने डांटा था
स्कूल के टीचर्स और छात्रों ने बताया कि शुक्रवार को स्कूल में प्रैक्टिकल फाइल चेक हो रही थी। इसी दौरान इंटर के ही एक अन्य छात्र रोहित से गुरविंदर का विवाद हो गया था। दोनों छात्रों में मारपीट हुई थी। इसके बाद गुस्से में गुरविंदर ने क्लास की कुर्सियां तोड़ दी थी।

यह फोटो स्कूल प्रिंसिपल राम स्वरूप वर्मा की है। वह जब स्कूल के कमरे में बैठे थे तभी आरोपी छात्र ने आकर उनको तीन गोलियां मार दीं।
यह फोटो स्कूल प्रिंसिपल राम स्वरूप वर्मा की है। वह जब स्कूल के कमरे में बैठे थे तभी आरोपी छात्र ने आकर उनको तीन गोलियां मार दीं।

इस पर प्रिंसिपल राम सिंह वर्मा ने दोनों छात्रों को कमरे में बुलाया। वहां दोनों को फटकार लगाई। कहा था कि दोबारा ऐसा किया तो स्कूल से बाहर कर देंगे। बताया जा रहा है कि इसी दौरान प्रिंसिपल ने गुरविंदर को थप्पड़ मार दिया था।

जिला अस्पताल में इलाज के लिए स्कूल प्रिंसिपल को ले जाया गया। हालत गंभीर होने पर उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया।
जिला अस्पताल में इलाज के लिए स्कूल प्रिंसिपल को ले जाया गया। हालत गंभीर होने पर उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया।

आरोपी ने बाहर आकर कहा था- कल प्रिंसिपल को गोली मार दूंगा
वारदात के बाद स्कूल स्टाफ ने बताया कि शुक्रवार को जब प्रिंसिपल ने डांटा था तो गुरविंदर कमरे से बाहर आया तो उसने वहां खड़े स्टाफ से कहा था कि "प्रिंसिपल ने मुझे मारा है। कल मैं उन्हें गोली मार दूंगा।" प्रिंसिपल के परिजन ने भी कहा कि धमकी देने के बाद भी स्कूल प्रबंधन ने ध्यान नहीं दिया। इसी वजह से यह वारदात हुई है।

जिस छात्र से विवाद हुआ था उसे पुलिस ने कस्टडी में लिया
वारदात के बाद पुलिस ने रोहित को कस्टडी में ले लिया है। रोहित से ही शुक्रवार को गुरविंदर का विवाद हुआ था। उधर, पुलिस ने बताया कि आरोपी गुरविंदर की उम्र 19 साल है। पहले भी वह स्कूल में विवाद कर चुका है।