सीतापुर में नाली विवाद में दो पक्षों में खूनी संघर्ष:विवाद के दौरान हुई फायरिंग, बीच-बचाव करने पहुंचे पड़ोसी की गोली लगने से मौत; 4 घायल

सीतापुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीतापुर में नाली विवाद में दो पक्षों में खूनी संघर्ष। - Dainik Bhaskar
सीतापुर में नाली विवाद में दो पक्षों में खूनी संघर्ष।

सीतापुर जिले के महोली कोतवाली क्षेत्र में नाली विवाद को लेकर शुक्रवार को दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। इस दौरान दोनों पक्षों में कई राउंड फायरिंग हुई। दोनों पक्षों के विवाद को शांत कराने पहुंचे एक व्यक्ति की गोली लगने से मौत हो गई, जबकि मृतक के बेटे और पोते सहित 4 लोग घायल हो गए। पोते की हालत गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया। अन्य घायलों का उपचार जिला अस्पताल में जारी है। घटना के बाद से गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

दो पक्षों के विवाद में पड़ोसी की गई जान

घटना महोली कोतवाली क्षेत्र के रोहिला गांव की है। यहां के निवासी ललित कृष्ण और संजू के बीच शुक्रवार सुबह नाली का पानी निकलने को लेकर विवाद हो गया। विवाद इस कदर बढ़ गया कि दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। इस दौरान पड़ोसी विनोद अवस्थी ने दोनों पक्षों के बीच बीच-बचाव करते हुए झगड़ा न करने की सलाह दी, लेकिन देखते ही देखते दोनों पक्षों में गोलियां चलने लगीं। बीच-बचाव करने आए विनोद की गोली लगने से मौत हो गई।

ट्रामा सेंटर रेफर किया गया एक मासूम

यही नहीं गोली लगने से मृतक विनोद अवस्थी का बेटा उत्कर्ष और 7 वर्षीय मासूम पोता उद्यांश सहित विवाद कर रहे चार लोग घायल हो गए। घटना के बाद परिजनों ने सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने मासूम उद्यांश की हालत गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस गांव पहुंच गई। जानकारी होने एसपी ने भी घटनास्थल का मुआयना किया।

संदिग्ध लोगों से पूछताछ कर रही पुलिस

एसपी ने वारदात को अंजाम देने वालों की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित की हैं। वहीं पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक को गोली मारने का आरोप संजू बाजपेयी, अनुराग बाजपेयी, अंकित बाजपेयी और सुधीर त्रिवेदी पर लगा है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, फायरिंग के लिए लाइसेंसी बंदूक और अवैध असलहों का इस्तेमाल किया गया है। इंस्पेक्टर महोली अतुल तिवारी का कहना है कि तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।