सीतापुर में किशोरी से दुष्कर्म:पड़ोसी के खेत में गन्ना छीलने गई थी, युवक ने जबरन किया दुष्कर्म; पुलिस ने दर्ज की सिर्फ छेड़खानी की रिपोर्ट

सीतापुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीतापुर में किशोरी से दुष्कर्म। - Dainik Bhaskar
सीतापुर में किशोरी से दुष्कर्म।

सीतापुर के महोली कोतवाली क्षेत्र में शुक्रवार को खेत में गन्ना छीलने गई एक किशोरी के साथ पड़ोस के गांव के युवक ने दुष्कर्म किया। आरोप है कि युवक ने पीड़िता को किसी से न बताने की धमकी दी। परिजनों का आरोप है कि जब वह तहरीर लिखाने कोतवाली गए तो कोतवाली में दुष्कर्म के मामले को छेड़खानी में बदल दिया गया। हालांकि अभी भी परिजन मुकदमा लिखाने के लिए कोतवाली के बाहर बैठे हैं।

कक्षा 8 में पढ़ती है छात्रा

कोतवाली के बाहर मौजूद पीड़िता ने बताया कि वह कक्षा आठ की छात्रा है। गुरुवार को उसके पिता किसान यूनियन की पंचायत में गए हुए थे। वह अपनी बहन और पड़ोस की लड़कियों के साथ पड़ोसी के खेत में गन्ना छीलने गई थी। इसी दौरान खेत में पहले से घात लगाए पड़ोसी गांव का मुकेश पीछे से उसे दबोच कर उसका मुंह दबा कर अंदर खेतों में उठा ले गया और दुष्कर्म किया।

आरोप है कि उसने दुष्कर्म के बाद पीड़िता को मुंह न खोलने के लिए धमकाया। चीखने-चिल्लाने पर मुकेश मौके से फरार हो गया। घर आकर पीड़िता ने परिजनों को घटना की जानकारी दी। परिजन जब शिकायत लेकर मुकेश के घर पहुंचे तो मुकेश ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी।

आपराधिक प्रवृत्ति का है आरोपी युवक

पीड़िता के साथ मौजूद उसकी मौसी ने बताया कि जब वह तहरीर लिखाने कोतवाली गए तो कोतवाली में दुष्कर्म के मामले को छेड़खानी में बदल दिया गया। पुलिस ने प्रार्थना पत्र तो लिया है, लेकिन अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया है। उन्होंने बताया कि मुकेश आपराधिक प्रवृत्ति का है। बीते वर्ष भी वह महिला अपराध से जुड़े एक मामले में जेल गया था। बीते महीने ही छूटकर आया है।

वहीं इंस्पेक्टर अनूप शुक्ला ने बताया कि इस तरह का कोई मामला नहीं हुआ है। छेड़खानी और दुष्कर्म दोनों ही मामले फर्जी हैं। पुलिस जांच-पड़ताल कर रही है।

खबरें और भी हैं...