• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Sitapur
  • Workers Waiting For Rahul, Demonstration Intensified; Deependra Hooda Said – The More You Try To Suppress, The More There Will Be Struggle

तीसरे दिन प्रियंका को मिली रिहाई:सीतापुर में राहुल के इंतजार में कार्यकर्ता, दीपेंद्र हुड्डा बोले- सरकार के तानाशाही रवैये पर पर सड़क से संसद तक संघर्ष करेंगे

सीतापुर2 महीने पहले
कांग्रेस कार्यकर्ता पीएसी गेट पर हंगामा कर रहे हैं।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को आज दोपहर आखिरकार रिहाई मिल गई। उन्हें 30 घंटे हिरासत में रखने के बाद मंगलवार की दोपहर गिरफ्तार कर लिया गया था। उन्होंने सीतापुर गेस्ट हाउस में रखा गया था। कांग्रेसी कार्यकर्ता तीन दिनों से गेस्ट हाउस के बाहर धरने पर बैठे थे।

मंगलवार देर रात तीन बार लाइट काटी गई। जिसको लेकर कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया। कार्यकर्ताओं ने पूरी रात कांग्रेस के गीत गाए। अब राहुल गांधी के आगमन को लेकर कार्यकर्ता बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन और तेज कर दिया। कार्यकर्ता सरकार विरोधी नारेबाजी कर रहे हैं।

प्रियंका गांधी के अलावा अजय कुमार लल्लू के साथ ही हरियाणा से राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा को भी रिहाई मिली है। हुड्डा ने कहा कि यह सरकार का तानाशाही रवैया है। हम किसी भी हाल में रुकने वाले नहीं है। हमारे नेता सीतापुर आ रहे हैं। प्रियंका गांधी के साथ हम सब भी लखीमपुर खीरी जाएंगे। साथ ही कहा कि पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए वो सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करेंगे।

राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने बताया कि हमारे नेता सीतापुर आ रहे हैं। प्रियंका गांधी के साथ हम सब भी लखीमपुर खीरी जाएंगे।
राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने बताया कि हमारे नेता सीतापुर आ रहे हैं। प्रियंका गांधी के साथ हम सब भी लखीमपुर खीरी जाएंगे।

कांग्रेस कमेटी के महासचिव बोले- सरकार जितना चाहती, उतना संघर्ष करेंगे

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव रोहित चौधरी ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। यहां पर कोई भ्रामक बातें नहीं हो रही है, सभी न्याय की बातें कर रहे हैं। प्रियंका गांधी ने कल फोन पर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया था। उनका कहना है कि जब तक केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्र इस्तीफा नहीं देंगे और उनके बेटे आशीष मिश्र की गिरफ्तारी नहीं होगी, तब तक संघर्ष चलता रहेगा। यह सरकार जितना लंबा संघर्ष चाहती है, उनता लंबा संघर्ष होगा।

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव रोहित चौधरी ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्य पूर्ण है। यहां पर कोई भ्रामक बातें नहीं हो रही है, सभी न्याय की बातें कर रहे हैं।
ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव रोहित चौधरी ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्य पूर्ण है। यहां पर कोई भ्रामक बातें नहीं हो रही है, सभी न्याय की बातें कर रहे हैं।

यह सारी घटनाएं BJP का चल चरित्र और चेहरा दर्शाती हैं। हाथरस और सोनभ्रद मामले में भी ऐसा ही हुआ था। प्रियंका गांधी और राहुल गांधी सिर्फ किसानों के परिवारों से मिलना चाहते हैं, उनकी मदद करना चाहते हैं। हम कोई राजनीति नहीं कर रहे हैं।

रात 12.08 बजे काटी गई पहली बार लाइट

मंगलवार रात को 12:08 मिनट पर पहली बार कांग्रेस के टेंट की लाइट काट दी गई। करीब आधे घंटे तक लाइट नहीं आई। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के द्वारा लाइट काटे जाने का जब विरोध शुरू किया, तब अचानक से लाइट आ गई। दूसरी बार लाइट 12:54 मिनट पर काटी गई। कांग्रेस कार्यकताओं ने यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। एक घंटे के बार फिर से लाइट आ गई। पूरी रात में तीन बार लाइट काटी गई।

मंगलवार रात कार्यकर्ताओं के टेंट की लाइट काट दी गई। जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया।
मंगलवार रात कार्यकर्ताओं के टेंट की लाइट काट दी गई। जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया।

रात में पुलिस का पहरा बढ़ाया गया
रात में पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की चहल पहल तेज रही। पीएसी एक बटालियन अतिरिक्त बुलाई गई। पुलिस की गाड़ियां हूटर बजाते हुए गश्त करती रही। पूरी रात कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के गीत गाकर भजन कीर्तन किया। कांग्रेस नेता बारी-बारी से सम्बोधन करते रहे।

खबरें और भी हैं...