सुल्तानपुर में घोंटा गया मिशन शक्ति का गला:छेड़खानी की शिकायत पर आग बबूला हुए थानाध्यक्ष, पीड़िता के घर से पुलिस ने हिरासत में लिया, बाद में छोड़ा

सुल्तानपुर5 महीने पहले

उत्तर प्रदेश क सुल्तानपुर में योगी सरकार के मिशन शक्ति का गला खाकी ने ही घोंट दिया। यहां दोस्तपुर थाने के प्रभारी ने जबरन समझौता कराने के लिए दलित सीमा को हवालात में लाकर बंद कर दिया।पीडिता की विधवा मां व परिजन इसको लेकर परेशान रहे।

दोस्तपुर थाने का मामला

बता दें कि थाना दोस्तपुर अन्तर्गत ग्राम हटीवा निवासी पीड़िता कुमारी सीमा सोनकर पुत्री स्व राधेश्याम सोनकर 19 अप्रैल को बाग में शौच के लिए गयी थी। बकौल सीमा गांव का ही वेद प्रकाश सोनकर उर्फ बब्लू पुत्र शिव चरन ने उसे अकेला पाकर छेड़खानी किया। सीमा ने यह बात अपनी मां से बताया तो उसकी मां ने विपक्षी वेद प्रकाश के घर वालो से शिकायत किया। जिस पर आरोपी के माता-पिता व उसकी बहन प्रतिमा ने पीड़िता की मां से गाली गलौज व अभद्रता किया।

मां करती रही मिन्नतें नहीं पसीजा दिल

इस संबंध में पीड़िता ने दूसरे दिन 20 अप्रैल को सम्बंधित थाने में शिकायत किया। मौके पर मौजूद उपनिरीक्षक ने शिकायती पत्र देखा। इसी प्रकरण में कोतवाल समझौता कराना चाहते थे। आरोप है कि कोतवाल विपक्षीगणों से मिले हुए हैं उनके द्वारा समझौता कराने के उद्देश्य से 24 अप्रैल को लगभग एक बजे दोपहर को पीड़िता को ही घर से हिरासत में ले लिया।

छोड़ने हूं आया

पीड़िता की मां व परिजन कोतवाल से काफी गिड़गिड़ाते रहे किन्तु कोतवाल ने एक ना मानी। पीड़िता को थाने में बंद करने का वीडियो सामने आने के बाद जब कोतवाल से बात की गई तो उन्होंने ने गोल मोल जवाब देते हुए कहा कि जिला कारागार दूसरे अभियुक्त को छोड़ने आया हूं।

खबरें और भी हैं...