थम नहीं रही पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर दुर्घटनाएं:जयसिंहपुर में मरीज छोड़कर लौट रहे एंबुलेंस चालक की हादसे में मौत, नीलगाय से टकराई कार, बाल-बाल बचे लोग

जयसिंहपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक तरफ यूपी के सीएम सुरक्षित यातायात को लेकर गंभीर हैं। वहीं दूसरी तरफ पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर दुर्घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बुधवार की रात जयसिंहपुर तहसील क्षेत्र से होकर गुजरे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सड़क हादसे में प्राइवेट एंबुलेंस चालक की मौत हो गई। वही एक अन्य दुर्घटना में नील गाय से टकराने के बाद वाहन के परखच्चे उड़ गए। एक्सप्रेस-वे पर पेट्रोलिंग कर रहे यूपीडा के कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त वाहनों को सड़क से हटाकर यातायात बहाल कराया।

सड़क पर खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसी एंबुलेंस

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को ग्लोबल हॉस्पिटल आजमगढ़ की प्राइवेट एंबुलेंस का चालक मरीज को छोड़ने पीजीआई लखनऊ गया हुआ था। रात करीब 11:30 बजे वह मरीज को लखनऊ छोड़कर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के रास्ते वापस आजमगढ़ लौट रहा था। एक्सप्रेस वे जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र के दरपीपुर गांव के पास सड़क पर पहले से खराब ट्रक में एंबुलेंस वाहन पीछे से जा घुसा। टक्कर इतनी जोरदार थी कि वाहन के परखच्चे उड़ गए। वाहन के अंदर दबने से चालक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मृतक की पहचान जगदंबा यादव (32) पुत्र सतीराम निवासी चौको बुजुर्ग थाना जियनपुर जनपद आजमगढ़ के रुप में हुई है। पुलिस ने पंचायत नामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। चौकी इंचार्ज सेमरी दिनेश राय ने बताया तहरीर प्राप्त कर मामले में विधिक कार्रवाई की जा रही है। एक्सप्रेस-वे पर पेट्रोलिंग कर रहे यूपीडा के कर्मचारियों ने स्थानीय पुलिस की मदद से शव को बाहर निकलवाया। साथ ही क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त वाहन को सड़क से हटवा कर यातायात बहाल कराया।

नील गाय से भीड़ी कार बाल-बाल बचे लोग

उधर, कूरेभार थाना क्षेत्र के माइलस्टोन 119.119 पर रात करीब 8:30 बजे एक कार एक्सप्रेस वे पर अचानक नील गाय आ जाने से कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में नील गाय की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। राहत की बात रही कि उसमें सवार लोग बाल-बाल बच गए। बताया जाता है कि कार में आजमगढ़ जिले के लोग सवार थे। यूपीडा के कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त वाहन व मृत नील गाय को सड़क से हटवा कर यातायात को बहाल कराया।

खबरें और भी हैं...