जयसिंहपुर के लोगों के लिए राहत भरी खबर:100 बेड के अस्पताल का लौटेगा दिन, शासन के अधिकारी ने जांचकर मांगी रिपोर्ट

जयसिंहपुर8 दिन पहले

बिरसिंहपुर में बन रहे बहुप्रतीक्षित सौ बेड के अस्पताल का शनिवार को चिकित्सा सवास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग उत्तर प्रदेश के सचिव ने निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने भवन निर्माण का कार्य करा रही संस्था के अधिकारियों को बचे हुए कार्यों को जल्द पूरा करने का निर्देश दिया है। साथ ही उन्होंने अस्पताल में तैनात सीएमएस से 20 जून तक प्रगति के बारे में अवगत कराने को कहा है।

जयसिंहपुर तहसील क्षेत्र के बिरसिंहपुर में करीब 27 करोड़ की लागत से बन रहे सौ बेड के अस्पताल का सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य रविंदर ने शनिवार दोपहर बाद निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने मुख्य भवन के कमरों का बारीकी से निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कार्यदाई संस्था उत्तर प्रदेश निर्माण निगम लखनऊ के जीएम अजय मिश्र व पीएम अनूप शुक्ला से जानकारी ली।

गौरतलब हो कि वित्तीय वर्ष 2014 में स्वीकृत अस्पताल के मुख्य भवन के साथ ही अभी आवास में कई काम अधूरे हैं। फायर टैंक का काम भी अभी पूरा नहीं किया जा सका है। हालांकि, कोरोना काल को देखते हुए अस्पताल में आक्सीजन प्लांट और कोविड वार्ड की व्यवस्था की गई है। अस्पताल में सीएमएस समेत कुल सात लोगों की तैनाती की गई है। जिसमें दो चीफ फार्मासिस्ट, तीन फार्मासिस्ट व एक वार्ड बॉय शामिल है। चिकित्सक की तैनाती न होने से जनता अस्पताल में ओपीडी शुरू होने का वर्षों से इंतजार कर रही है।

निरीक्षण के दौरान एसडीम जयसिंहपुर अरविंद कुमार ने स्वास्थ्य सचिव को अवगत कराया कि अस्पताल के संचालन से यहां की जनता के साथ ही पड़ोसी जिले के लोग भी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ले सकेंगे। सचिव ने कार्यदायी संस्था के अधिकारियों के साथ ही सीएमओ को जल्द बचे हुए कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए हैं। इस मौके पर क्षेत्राधिकारी जयसिंहपुर कृष्ण कांत सरोज, सीएमओ डॉ. धर्मेंद्र कुमार त्रिपाठी, सीएमएस डॉ. राज कमल चौरसिया, कोतवाल अनिल सिंह, आजाद पांडेय आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...