सुल्तानपुर...मुजीब अहमद ने थामा सपा का दामन:5 साल पहले अनूप संडा की हैट्रिक पर लगाया था ब्रेक, अब 2022 में हाथी की सवारी छोड़ी

सुल्तानपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूपी चुनाव की अनौपचारिक शुरुआत तो हो चुकी है। जल्द ही अधिसूचना जारी होने के बाद चुनावी सरगर्मियां और तेज हो जाएंगी। इससे पहले दल बदल का काम तेजी में चल रहा है। नए साल के तीसरे दिन आज सुल्तानपुर सीट से बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके मुजीब अहमद ने हाथी से उतरकर साइकिल की सवारी की है।

राजनीति का कोई बड़ा चेहरा नहीं

बता दें कि मुजीब अहमद राजनीति का कोई बड़ा चेहरा नहीं थे। बीएसपी में भी इन्हें कोई न जानता था, न पहचानता था। 2017 का विधानसभा चुनाव इनके लिए संजीवनी बना। वो बसपा से टिकट लेकर सुल्तानपुर सीट से चुनाव लड़ने पहुंचे। पानी की तरह पैसा बहाया। क्षेत्र में ताबड़तोड़ उनकी गाड़ियां दौड़ीं। तब लोगों ने जाना कि यह मुजीब हैं। करीब डेढ़-दो महीने तक वो क्षेत्र में डटे रहे।

चुनाव हारने के बाद क्षेत्र में नहीं दिखे

यही नहीं मोदी लहर थी, इसलिए मुजीब के अपने वर्ग ने काफी बड़ी संख्या में उन्हें वोट किया। मुजीब दूसरे पायदान पर रहे। उन्हें 54 हजार 393 मत मिले थे, लेकिन उनके इतने वोटों ने सपा के दो बार के विधायक अनूप संडा की हैट्रिक पर ब्रेक लगा दिया था। संडा को पहली बार 2007 में 29,504, 2012 में 57,811और 2017 में 53,238 वोट मिले थे। अब जब मुजीब ने सपा ज्वाइन किए तो वो सपा को कितना लाभ पहुंचा पाएंगे, यह बड़ा सवाल है। वो भी तब जब वो चुनाव हारने के बाद पलटकर यहां नहीं लौटे।

खबरें और भी हैं...