ऑपरेशन लंगड़ा में तीन बदमाशों को लगी गोली:सुल्तानपुर में पुलिस और बदमाशों में हुई मुठभेड़, सिपाही भी हुआ घायल, अस्पताल में चल रहा सभी का इलाज

सुल्तानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में सप्ताह भर पूर्व रेस्टोरेंट संचालक को गोली मार कर हुई लूट के आरोपियों को शनिवार रात पुलिस ने मुठभेड़ में गिरफ्तार किया है। पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में एक सिपाही और तीन बदमाशों को गोली लगी है। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कोतवाली देहात थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़

पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 15 अप्रैल को कोतवाली नगर के बस स्टेशन स्थित अन्नपूर्णा भोजनालय के मालिक अमित गुप्ता को बदमाशों ने सुबह तड़के एसपी आवास से चंद कदम की दूरी पर गोली मारकर उसका बैग लूट लिया था। इस संबंध में शनिवार को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि व्यापारी से लूट की घटना को अंजाम देने वाले बदमाश कोतवाली देहात क्षेत्र में मौजूद हैं। कोतवाली नगर व स्वाट टीम ने घेराबंदी किया तो बिना नंबर की बाइक पर सवार 3 बदमाश आते दिखे। जिन्हें पुलिस पार्टी द्वारा रोका गया। रोकने के इशारे पर उन लोगों ने पुलिस पार्टी पर फायर किया जिसमें कोतवाली नगर में तैनात सिपाही रोहित यादव घायल हो गया।

घटना स्थल पर मिला अवैध तमंचा और मोबाइल।
घटना स्थल पर मिला अवैध तमंचा और मोबाइल।

अवैध तमंचा-चाकू और मोबाइल बरामद

जवाबी में पुलिस टीम की ओर से फायरिंग की गई तो बाइक सवार राहुल उर्फ रंजीत कुमार मिश्रा पुत्र देवी प्रसाद मिश्रा निवासी कोरोउन धनपतगंज, सचिन जयसवाल उर्फ शशांक पुत्र विमल जयसवाल निवासी अयोध्या नगर थाना पीपरपुर जनपद अमेठी तथा शुभम जायसवाल पुत्र कमलेश जायसवाल निवासी धनपतगंज बाजार थाना धनपतगंज गोली लगने से घायल हुए। इन्हें उपचार के लिए पुलिस ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। बदमाशों के कब्जे से 2 अवैध तमंचा, एक चाकू, 5 मोबाइल तथा अन्य संदिग्ध सामग्री बरामद हुई है। इस संबंध में पुलिस के अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं। प्रारंभिक पूछताछ में बदमाशों ने अमित गुप्ता के साथ हुई घटना को अंजाम देना स्वीकार किया है।

खबरें और भी हैं...