सांसद मेनका गांधी की पहल:सुल्तानपुर से उतरेठिया तक सफर हुआ आसान, 5 दिसंबर से शुरू होगी मेमो ट्रेन

सुल्तानपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सांसद मेनका गांधी की पहल। - Dainik Bhaskar
सांसद मेनका गांधी की पहल।

सुल्तानपुर सांसद मेनका गांधी का प्रयास आखिर रंग ला ही गया। पहले कोरोना काल के समय से बंद हुई मेमो ट्रेन लंबे समय अंतराल के बाद आखिर 5 दिसंबर से शुरू होने जा रही है। सांसद के अनुरोध पर रेलवे बोर्ड ने मेमो ट्रेन को सुल्तानपुर से उतरेठिया तक चलाने का फैसला किया है।

जानकारी के मुताबिक, मेमो ट्रेन सुल्तानपुर से उतरेठिया के बीच 6 दिसंबर से प्रतिदिन चलेगी। 5 दिसंबर को अनारक्षित मेमो ट्रेन 5:10 बजे उतरेठिया स्टेशन से छूटकर सुल्तानपुर जंक्शन पहुंचेगी। अगले दिन सुल्तानपुर जंक्शन से 6 दिसंबर को सुबह 7:35 बजे उतरेठिया के लिए जाएगी।

सांसद के मीडिया प्रभारी ने दी जानकारी

सांसद के मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी ने बताया कि मेमो ट्रेन चलाने के लिए सांसद मेनका गांधी के प्रतिनिधि रणजीत कुमार ने 15 नवंबर को लखनऊ में उत्तर रेलवे के अधीनस्थ डिवीजन के अंतर्गत आने वाले लोकसभा सदस्यों की बैठक में सांसद के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद रहकर यह विषय उठाया था। रेलवे ने मेमो ट्रेन का टाइम टेबल जारी कर दिया।

17 नवंबर से चलवाई थी वाराणसी-लखनऊ के बीच ट्रेन

वैसे रेल के क्षेत्र में सांसद मेनका गांधी का यह पहला प्रयास नहीं है। वाराणसी से लखनऊ के बीच चलने वाली वरुणा एक्सप्रेस ट्रेन भी पहले ही कोरोना काल से बंद हो गई थी। उनके काफी प्रयास के बाद 17 नवंबर यह ट्रेन शटल सुपरफास्ट के नाम से वाराणसी-लखनऊ के बीच चलना शुरू हुई है। खुद मेनका गांधी ने इसे हरी झंडी दिखा सुल्तानपुर से लखनऊ के लिए रवाना किया था।

खबरें और भी हैं...