सुल्तानपुर में भू-माफिया ने कब्जा की करोड़ों की जमीन:शासन से शिकायत के बाद भी मिल गई क्लीन चिट, राजस्व कर्मियों की जांच रिपोर्ट पर उठे सवाल

सुल्तानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूपी में सरकारी जमीन को कब्जा मुक्त कराने की महीने भर से मुहिम चल रही है। भू-माफियाओं के खिलाफ सरकार का बुलडोजर गरज रहा है। इन सबके बीच सुल्तानपुर में पूर्व सहायक कोषाधिकारी ने ग्रामसभा की जमीन पर कब्जा कर लिया। शिकायत हुई तो राजस्व कर्मियों ने कार्रवाई के बजाए आरोपी को क्लीन चिट दे दी।

दरअसल, यह मामला कुड़वार ब्लॉक के भंडरा परशुरामपुर ग्रामसभा का है। जानकारी के मुताबिक, यहां के स्थायी निवासी आत्माराम मिश्रा ने ग्रामसभा की नवीन परती भूमि, जिसका गाटा संख्या-1361 को अपने पत्नी के नाम दर्ज गाटा संख्या-1349 में जोड़कर कटीले तार से घेरकर कब्जा कर लिया। इसकी शिकायत गांव के ही एक किसान द्वारा एंटी भू-माफिया सेल से की गई। जब कोई कार्रवाई नहीं हुई, तब शिकायत जिलाधिकारी से हुई। यहां भी जब मामले की अनदेखी की गई तो शिकायतकर्ता ने शासन में लिखित शिकायत की।

करोड़ों की जमीन पर भू-माफिया ने कब्जा कर लिया है।
करोड़ों की जमीन पर भू-माफिया ने कब्जा कर लिया है।

जांच कर लगाई गलत रिपोर्ट
शासन में शिकायत होने के बाद जांच के आदेश हुए। लेखपाल सुशील तिवारी और राजस्व निरीक्षक रामशंकर मिश्रा को जांच कर आख्या रिपोर्ट देनी थी। आरोप है, दोनों ही राजस्व कर्मियों ने हीला-हवाली बरतते हुए भ्रामक रिपोर्ट लगाकर आरोपी को क्लीन चिट दे दी, जबकि आरोपित व्यक्ति ने अभी भी सरकारी जमीन पर अतिक्रमण जस का तस बना रखा है। इससे सरकार की जो नीति है, वो सवालों के घेरे में आ गई है।

खबरें और भी हैं...