सुल्तानपुर में DM-CDO ने कूरेभार ब्लॉक का किया निरीक्षण:पशु चिकित्सा अधिकारी के उपस्थित नहीं होने पर लगाई फटकार, पशुओं को आवारा छोड़ वाले किसानों पर दर्ज होगी FIR

सुल्तानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में आज डीएम-सीडीओ ने कूरेभार ब्लॉक का निरीक्षण किया। इस दौरान दोनों अधिकारियों ने क्षेत्र में बने शौचालय, गेहूं क्रय केंद्र व गोशाला का निरीक्षण किया।

डीएम रवीश गुप्ता व मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्स ने वृहद गोवंश आश्रय स्थल सिरवारा, ब्लॉक कूरेभार का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय कुल 396 गोवंश संरक्षित पाये गये, जिसमें 196 नर एवं 200 मादा हैं। निरीक्षण के दौरान पशु चिकित्सा अधिकारी के उपस्थित न होने तथा गोवंश आश्रय स्थल में एक गोवंश के बीमार होने पर डीएम द्वारा निर्देशित किया गया कि पशु चिकित्सा अधिकारी नियमित उपस्थित रहकर गोवंशों के स्वास्थ्य की देखभाल करें तथा बीमार गोवंश के उपचार हेतु उचित प्रबंध करें। डीएम ने कहा कि किसानों द्वारा अपने पालतू पशुओं को आवारा छोड़ दिये जाने पर बीडीओ कूरेभार दिव्या सिंह को निर्देशित करते हुए कहा कि ऐसे किसानों को चिन्हित कर उनके के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायें।

शौचालय का भी किया निरीक्षण।
शौचालय का भी किया निरीक्षण।

मानक के अनुरूप पाया गया शौंचालयों का निर्माण

वही डीएम व सीडीओ द्वारा ग्राम पंचायत रामदासपुर में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) फेज-2 के अंतर्गत निर्मित शौंचालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शौंचालयों का निर्माण मानक के अनुरूप पाया गया। सभी शौंचालय प्रयोग में लाये जा रहे हैं। सत्यापन के दौरान सभी शौंचालयों पर कोड/नम्बर अंकित पाये गये, जिसकी डीएम द्वारा सराहना की गयी। डीएम रवीश गुप्ता व सीडीओ अतुल वत्स द्वारा मंगलवार को विकास खण्ड कूरेभार स्थित साधन सहकारी समिति द्वारा संचालित गेहूं क्रय केंद्र डीहडग्गूपुर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान किसानों के गेहूं की तौल हो रही थी। डीएम ने क्रय केंद्र प्रभारी को किसानों से व्यक्तिगत संपर्क करने का निर्देश दिया। डीएम ने किसानों से वार्ता भी की। गेहूं क्रय केंद्र पर किसानों के आवक कम होने पर सम्बन्धित अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि खुले बाजार में गेहूं के भाव ज्यादा होने से क्रय केन्द्र पर कम किसान तौल के लिये आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...