सुल्तानपुर...मोस्ट कल्याण संस्थान ने आयोजित किया शिक्षा जागरूकता कार्यक्रम:श्यामलाल निषाद बोले-बच्चों की गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए अभिभावकों की सक्रियता जरूरी

सुल्तानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सुलतानपुर में आज कूरेभार ब्लॉक के ग्राम सभा मोलनापुर निजामपट्टी में मोस्ट कल्याण संस्थान के तत्वाधान में शिक्षा जागरूकता का कार्यक्रम किया गया। कार्यक्रम का नेतृत्व बृजेश निषाद ने किया। प्रधान शिवकुमार निषाद के संरक्षण में उक्त कार्यक्रम आयोजित हुआ।

कूरेभार ब्लॉक क्षेत्र में आयोजित हुआ कार्यक्रम

इस अवसर पर एमजीएस इंटर कॉलेज सुलतानपुर के शिक्षक श्यामलाल निषाद "गुरुजी" ने कहा कि जितनी सक्रियता व खर्च करने का समर्पण अभिभावक पब्लिक स्कूलों के प्रति दिखाते हैं। उसकी 50% सक्रियता भी सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के प्रति दिखा दें तो शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति आ जायेगी। श्यामलाल निषाद ने अभिभावकों को आगाह करते हुए कहा कि सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करने का मूल अधिकार है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए स्कूल-कॉलेजों में प्रवेश के साथ-साथ बच्चों के दैनिक गतिविधि और स्कूल-कॉलेज पर भी नजर रखनी चाहिए। किसी सरकारी स्कूल में पठन-पाठन की स्थिति जानने का प्रत्येक अभिभावक को अधिकार है।

शिक्षा जागरूकता को दी जानी चाहिए प्रमुखता

प्रधान शिवकुमार निषाद ने कहा कि बदलते परिवेश में सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शिक्षा जागरूकता को प्रमुखता दी जानी चाहिए। मोस्ट जिला संयोजक जीशान अहमद ने कहा कि वंचितों और पिछड़ों की उन्नति का एक मात्र साधन शिक्षा है इसीलिए मोस्ट कल्याण संस्थान गांव-गांव शिक्षा जागरूकता कार्यक्रम कर रहा है। इस मौके पर बृजेश कुमार निषाद, हंसराज निषाद, राजेश कुमार निषाद एलआईसी, राजकुमार, राजीव कुमार निषाद, राम उजागिर, शिव शंकर, सत्यनारायण, विनोद कुमार, आशा देवी, उर्मिला देवी, राम अभिलाख, मुन्नालाल, सुशील कुमार, दिनेश कुमार, संतोष कुमार, संदीप कुमार, पंचम कुमार, दान बहादुर, संतराम, अशर्फीलाल, बीडीसी सूबेदार सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...