• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Sultanpur
  • Two Teenagers Drowned In Gomti River In Sultanpur: No Clue Found In Sultanpur Even After 17 Hours, Search Operation Continues In Gomti River, Incident Of Mythological Diara Ghat

अंतिम संस्कार के बाद स्नान को गए 2 किशोर डूबे:सुल्तानपुर में 17 घंटे बाद भी नहीं लगा सुराग, गोमती नदी में सर्च ऑपरेशन जारी, पौराणिक दियरा घाट की घटना

सुल्तानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोताखोर दोनों की तलाश कर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
गोताखोर दोनों की तलाश कर रहे हैं।

सुल्तानपुर में पौराणिक दियरा घाट पर अंतिम संस्कार के बाद गोमती नदी में नहाने उतरे दो किशोर पानी के तेज बहाव में बह गए। करीब 17 घंटे बीत चुके हैं। अब तक दोनों का कोई सुराग नहीं लग सका है। पुलिस स्थानीय गोताखोरों को लगाकर सर्च ऑपरेशन करवा रही है। उधर घटना के बाद से दोनों ही परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र के मैरी रंजीत नथईपुर गांव निवासी रामप्यारे का गुरुवार को निधन हो गया था। शुक्रवार को उनका अंतिम संस्कार करने गांव के लोग मोतिगरपुर थाना क्षेत्र के दियरा घाट आए हुए थे। शव के दाह संस्कार के बाद दिन में करीब दो बजे लोग गोमती नदी में नहा रहे थे तभी गांव वालों के साथ नथईपुर के हिमांशु (19) पुत्र अयोध्या प्रसाद व मुरारी (14) पुत्र महावीर नदी में नहाने उतरे थे। तेज बहाव के चलते दोनों गहरे पानी में चले गए।

मोतिगरपुर पुलिस स्थानीय लोगों के प्रयास से डूबे हुए दोनों किशोरों को ढूंढने के प्रयास में जुटी है।
मोतिगरपुर पुलिस स्थानीय लोगों के प्रयास से डूबे हुए दोनों किशोरों को ढूंढने के प्रयास में जुटी है।

गोताखोर और ग्रामीण ढूढने में जुटे

वहां मौजूद लोगों ने दोनों को बचाने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। साथ आए लोगों ने घटना की सूचना मोतिगरपुर पुलिस को दी। मोतिगरपुर पुलिस स्थानीय लोगों के प्रयास से डूबे हुए दोनों किशोरों को ढूंढने के प्रयास में जुटी है। मैरी रंजीत के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अमित सिंह ने पुलिस से गोताखोरों की मदद लेते हुए दोनों के तलाश की मांग की है। घटना की सूचना मिलने पर जयसिंहपुर एसडीएम रामअवतार, थाना अध्यक्ष मोतिगरपुर राजकुमार दियरा पहुंचे थे।

घटना की सूचना मिलने पर जयसिंहपुर एसडीएम रामअवतार, थाना अध्यक्ष मोतिगरपुर राजकुमार दियरा पहुंचे थे।
घटना की सूचना मिलने पर जयसिंहपुर एसडीएम रामअवतार, थाना अध्यक्ष मोतिगरपुर राजकुमार दियरा पहुंचे थे।

रो-रोकर बेहाल हुए परिजन

बता दें कि हिमांशु यादव के पिता अयोध्या प्रसाद चित्रकूट में प्राइवेट कंपनी में काम करते है। हिमांशु भी पिता के साथ चित्रकूट में प्राइवेट कंपनी में शटरिंग का काम करता था और इधर दो माह से घर पर था। उसके इस तरह लापता होने पर बड़े भाई आदित्य (23), छोटे भाई पंकज (16) व बहन अर्चिता (12वर्ष) एवं मां हीरावती देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं नदी के पानी में बहाव में लापता हुआ मुरारी दियरा इंटरमीडिएट कॉलेज का हाईस्कूल का छात्र है। मां दुर्गावती, बड़े भाई कन्हैयालाल (20) और दो छोटी बहनें काजल व सेजल भी रो-रोकर बेहाल हो रही हैं।

खबरें और भी हैं...