सुल्तानपुर...कस्तूरबा विद्यालय की छात्राओं की थाली से रोटियां गायब:वार्डेन पर एक्सपायर सामान खाने में देने का आरोप, खुले में स्नान को मजबूर छात्राएं

सुल्तानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ताजा मामला सुल्तानपुर के कादीपुर स्थित कस्तूरबा विद्यालय का है। जहां पढ़ने वाली छात्राओं को भोजन में रोटियां नहीं मिल रही। - Dainik Bhaskar
ताजा मामला सुल्तानपुर के कादीपुर स्थित कस्तूरबा विद्यालय का है। जहां पढ़ने वाली छात्राओं को भोजन में रोटियां नहीं मिल रही।

कस्तूरबा विद्यालयों में बेहतर शिक्षा के लिए माता-पिता बच्चियों के भेज रहे। सरकार भी इनके भोजन से लेकर तमाम प्रकार के प्रबंध के लिए लाखों का बजट दे रही। लेकिन कस्तूरबा स्कूलों की वार्डेन सरकार को बदनाम करने में लगी हैं।

ताजा मामला सुल्तानपुर के कादीपुर स्थित कस्तूरबा विद्यालय का है। जहां पढ़ने वाली छात्राओं को भोजन में रोटियां नहीं मिल रही। आरोप तो यह भी है कि एक्सपायर सामान भी उन्हें खिला दिया जा रहा है। नहाने के समय अक्सर उन्हें खुले में स्नान करना पड़ रहा। हालांकि जिम्मेदार अधिकारी ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

एबीएसए ने किया था निरीक्षण

कादीपुर कस्बे में जूनियर हाई स्कूल परिसर में ही कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय स्थित है। बीते दिन पूर्व नवागत खंड शिक्षा अधिकारी सुनील यादव कार्यभार ग्रहण करने के बाद विद्यालय की व्यवस्था देखने पहुंच गए थे। खंड शिक्षा अधिकारी से विद्यालय में अध्ययनरत छात्राओं एवं मुख्य रसोईया अमिता मिश्रा ने विद्यालय की अव्यवस्था के विषय में शिकायत भी की थी। हकीकत से रूबरू होते हुए खंड शिक्षा अधिकारी ने नाराजगी व्यक्त किया था और वार्डन को सुधारने का निर्देश दिया। आरोप है कि इसके बाद वार्डन छात्राओं एवं मुख्य रसोईया पर बिफर गई और औकात में रहने की नसीहत दे डाली।

दो दिन से भोजन में नहीं मिली रोटियां।
दो दिन से भोजन में नहीं मिली रोटियां।

नाश्ते में एक्सपायर टोस्ट लाई करा रही वितरण

मुख्य रसोईया अमिता मिश्रा ने बताया कि वार्डन छात्राओं को एक्सपायर टोस्ट एवं लाई नाश्ते में वितरण करा रही हैं। रोटी बनाने के लिए बीते जनवरी माह का पिसा आटा प्रयोग किया जा रहा है। भोजन में हल्दी, दलिया एक्सपायरी डेट का दिया जा रहा है। घुना चना एवं दाल का प्रयोग किया जा रहा है। बच्चों को वाश रूम में नहाने से मना किया जा रहा है। मजबूर होकर छात्राएं खुले आंगन में स्नान करती हैं।

शिकायत करने पर छात्राओं को धमकी दे रही वार्डन

यहां जब मौके पर पहुंचकर देखा गया तो भोजन कर रही छात्राओं को चावल-दाल सब्जी परोसा गया था।छात्राओं ने पूछने पर बताया कि बीते 2 दिनों से रोटी नहीं दी जा रही है। घूने खाद्य सामग्री को बनाने से मना करने पर वार्डन नौकरी से निकलवाने एवं औकात में रहने की धमकी दे रही हैं। विद्यालय में अध्ययनरत कक्षा सात की छात्रा पुनीता एवं कक्षा आठ की छात्रा खुशी तथा सोनी कुमारी ने बताया कि 2 दिनों से भोजन में रोटी नहीं मिल रही है। शिकायत करने पर वार्डन धमकी देती हैं। इस संबंध में जब वार्डन सुनीता भारती से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने बात करने से इनकार करते हुए कहा कि मैं बीएसए से पूछकर ही बात करूंगी। खंड शिक्षा अधिकारी सुनील यादव ने कहा कि मामला मेरे संज्ञान में है। जांच कर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

खबरें और भी हैं...