पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उन्नाव में रिश्वतखोर दरोगा को हुई जेल:सर्राफा व्यापारी से छीने थे 20000 रुपए, विधायक ने एसपी से शिकायत कर की थी कार्रवाई की मांग

उन्नाव20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उन्नाव में रिश्वतखोर दरोगा को हुई जेल। - Dainik Bhaskar
उन्नाव में रिश्वतखोर दरोगा को हुई जेल।

उन्नाव में एक सर्राफा व्यापारी अपनी दुकान बंद कर बैग में सोने व चांदी के जेवर लेकर घर जा रहा था। तभी दरोगा ने उसको रोक लिया। उसने उस पर चोरी के गहनों का कारोबार करने का आरोप लगाया। फिर उसे अपने साथ थाने ले गया। जहां उससे 20000 रुपए छोन लिए थे। पुरवा विदायक ने मामले की शिकायत एसपी से करते हुए कार्रवाई की मांग की थी। जांच में दोषी पाए जाने पर उसे जेल भेज दिया गया है।

चेकिंग के दौरान रोका था व्यापारी को
असोहा थाना क्षेत्र में सर्राफा व्यापारी सोनू अपनी दुकान बंद कर घर जा रहा था। तभी चौराहे पर चेकिंग लगाए एसआई सर्वेश राणा ने सोनू को रोक लिया। तलाशी में उसके बैग में भारी मात्रा में सोने व चांदी के गहने मिले। जिसे देख दरोगा ने उस पर चोरी के गहने खरीदने व बेचने का आरोप लगाया और उसे थाने ले गया। छोड़ने के नाम पर व्यापारी से दरोगा ने पहले 1 लाख की मांग की। फिर 50 हजार बाद में 20 हजार रुपए उससे जबरदस्ती छीन लिए।

उत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित है दरोगा
मामले की शिकायत पुरवा विधायक ने एसपी से की थी। जिसकी जांच सीओ पुरवा को दी गई थी। सीओ को जांच में एसआई के दोषी मिलने पर उसके खिलाफ केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया। आरोपी दरोगा सर्वेश राणा बीते स्वतंत्रता दिवस को ग्रह मंत्रालय द्वारा उत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित हो चुका है। एएसपी ने बताया कि बीती रात चेकिंग के दौरान सर्राफा व्यापारी से 20000 की अवैध वसूली की शिकायत की जांच सीओ से कराई गई। जिसमें एसआई सर्वेश राणा दोषी पाए गए। उन पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा गया है। अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...