• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Unnao
  • After Retiring From The Army, He Was Doing The Job Of A Gateman In The Railway, While Closing The Gate, He Was Hit By A Goods Train, Cut To Death

उन्नाव में बेटे के जन्मदिन के दिन पिता की मौत:फौज से रिटायर होने के बाद रेलवे में कर रहे थे गेटमैन की नौकरी, गेट बंद करने के दौरान मालगाड़ी की चपेट में आए, कटकर मौत

उन्नाव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बेटे के जन्मदिन वाले दिन पिता की मौत। - Dainik Bhaskar
बेटे के जन्मदिन वाले दिन पिता की मौत।

उन्नाव में एक रिटायर फौजी की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। दरअसल फौजी ने पद से रिटायर होने के बाद रेलवे की नौकरी ज्वाइन की थी। ड्यूटी के दौरान सिग्नल मिलने पर वो गेट बंद करने पहुंचे थे, उसी दौरान ट्रेन की चपेट में आकर उनकी मौत हो गई। गुरूवार को फौजी के बेटे का आज जन्मदिन था पर पिता की मौत होने से परिवार में मातम छाया गया।

बेटे का जन्मदिन मनाकर करने जा रहे थे नौकरी

सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के ब्रह्मना गांव के रहने वाला बृजेश वर्मा तीन साल पहले फौज से रिटायर होने के बाद रेलवे गेटमैन की नौकरी कर रहे थे। वो वह शहर के दयाराम बगिया पूरननगर मोहल्ला में मकान बनवा कर परिवार के साथ रहते थे। गुरूवार को बृजेश के बेटे दीप वर्मा का जन्मदिन था। शाम को जन्म दिन मनाने के बाद वो बाइक से माखी थाना क्षेत्र के पूरा निस्पंसारी स्थित क्रासिंग पर ड्यूटी करने के लिए आए थे।

रेलवे ट्रैक पर पड़ा रहा रात भर शव

क्रासिंग पर मेनूअल रस्सी बांधकर फाटक बंद किया जाता है। रात को मालगाड़ी निकलने के दौरान क्रासिंग बंद करते समय वो ट्रेन की चपेट में आ गए। पूरी रात रेलवे ट्रैक पर गेटमैन का शव पड़ा रहा। शुक्रवार सुबह ट्रेन को निकालने के लिए पटियारा गेटमैन ने बृजेश के मोबाइल पर फोन किया, लेकिन घंटी जाने के बाद भी फोन नहीं उठा।

जब रेलवे कर्मी ने मौके पर पहुंच कर देखा तो गेटमैन बृजेश का शव रेलवे ट्रैक पर पड़ा हुआ था। सफीपुर के साल्हेनगर करौधी गांव निवासी रजनीश कुमार ने पुलिस को हादसे की सूचना दी। मौके पर पहुंचे माखी कार्यवाहक प्रभारी कमल दुबे ने जांच के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

खबरें और भी हैं...