उन्नाव में राज्यपाल से मिलने पैदल निकला अधेड़:दीपोत्सव मेले में जन समस्याएं बताने पर बीजेपी नेता ने मंच से दिया था भगा, सांसद भी थे मौजूद

उन्नाव6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जन समस्याएं सुनाने के लिए पैदल निकाला अधेड़। - Dainik Bhaskar
जन समस्याएं सुनाने के लिए पैदल निकाला अधेड़।

उन्नाव में शुक्लागंज के आनंद घाट पर दीपोत्सव मेले का आयोजन किया गया था। इस दौरान मेले में विधायक और सांसद भी पहुंचे थे। मेले में नगर की समस्याओं को लेकर जब एक अधेड़ ने बोलना शुरू किया, तो शुक्लागंज के एक भाजपा नेता ने उसे अपशब्द कह कर मंच से भगा दिया था।

शुक्रवार को अधेड़ नगर की समस्याएं सुनाने के लिए पैदल ही राजभवन की ओर निकल गया। सूचना पर सीओ और सिटी मजिस्ट्रेट ने उन्हें रोक लिया और पुलिस हिरासत में गंगाघाट कोतवाली भेज दिया।

27 अक्टूबर को हुआ था मेले का आयोजन

गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के आनंदघाट पर पिछली 27 अक्टूबर को शासन की ओर से एक दीपोत्सव मेले का आयोजन किया गया था। जिसमें उन्नाव सांसद साक्षी महाराज और सदर विधायक पंकज गुप्ता पहुंचे थे। दोनों ही मंच से सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे। इसी दौरान गंगाघाट के रहने वाले शीतला प्रसाद ने 150 साल पुराने गंगापुल को खोलने की मांग की। साथ ही अन्य समस्याएं भी गिनाई।

मंच पर कहे थे अपशब्द

तभी मंच पर मौजूद एक भाजपा नेता ने उन्हें अपशब्द कहे और हजारों लोगों के बीच से उन्हें भगा दिया। इस पर सांसद और विधायक भी कुछ नहीं बोले। जिसके बाद शीतला प्रसाद ने नगर की तमाम समस्याओं की जिम्मेदारी स्वयं उठा ली और आज सुबह गंगाघाट क्षेत्र से पैदल राजभवन में राज्यपाल से मिलने के लिए चल दिए।

सूचना पर सिटी मजिस्ट्रेट और सीओ ने उनके रोक लिया। वो लोग उनको गंगा घाट पुलिस कोतवाली ले आए। समेत उन्हें रोक लिया गया। वहां उनकी समस्याओं को सुना जा रहा है।